महागठबंधन झारखंड विरोधी शक्तियों का गठजोड़ : भाजपा

भाजपा की राजनीति रांची से शिफ्ट हुई दिल्ली-Panchayat Times

रांची. भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने शुक्रवार को प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस वार्ता करते हुए विपक्ष के द्वारा गठबंधन की घोषणा पर पलटवार करते हुए इसे झारखंड विरोधी शक्तियों का गठजोड़ बताया और कहा कि इसमें वही पार्टी शामिल है जिनमें वंशवाद चरम पर है.

प्रतुल ने कहा कि इस गठबंधन में शामिल कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व जेल और बेल के चक्कर में फंस है तो झारखंड को सेल कर देने वाला झारखंड मुक्ति मोर्चा और अंतिम तक ब्लैकमेल करने वाला राजद भी मौजूद है. इस गठजोड़ को अब महागठबंधन की भी संज्ञा नहीं दी जा सकती क्योंकि जेवीएम और सीपीआई और सीपीएम ने इनसे पहले ही किनारा कर लिया.गठबंधन में शामिल कांग्रेस ने झारखंड आंदोलन को अनेकों बार खरीदा है तो झारखंड मुक्ति मोर्चा ने झारखंड आंदोलन को अनेकों बार बेचा है.

भाजपा की राजनीति रांची से शिफ्ट हुई दिल्ली

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से ज्यादा बड़ा अलग राज का विरोधी कोई दूसरा नहीं था. उन्होंने तो अपनी लाश पर झारखंड बनने की बात कही थी. यह पूरे तरीके से झारखंड विरोधी शक्तियों का नापाक गठबंधन है.पिछले लोकसभा चुनाव में भी इसी तरीके से बिना नीति सिद्धांत का गठबंधन बना था और जनता ने उसे निकास द्वार दिखा दिया था. इस बार जनता फिर से ऐसे गठबंधन को रिजेक्ट करेगी.

प्रतुल ने कहा कि गठबंधन और विपक्ष के नेताओं को जनता के हित से कोई लेना-देना नहीं. उनके लिए व्यक्तिगत आकांक्षा ज्यादा महत्वपूर्ण है. इसका साफ उदाहरण है कि दर्जनों बार एक साथ चुनाव लड़ने की बात कहने के बावजूद हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी ने सीटों के मुद्दे पर साथ छोड़ दिया. लगभग 2 घंटे 50 मिनट से भी ज्यादा विलंब के बाद इनका प्रेस कॉन्फ्रेंस इसलिए शुरू हुआ क्योंकि इनमें अंत तक सीटों पर सहमति नहीं बन पाई है और यह सब जनता के सामने एकता का ढोंग कर रहे हैं. बड़ी-बड़ी घोषणाओं के बावजूद राजद के नेताओं का प्रेस कांफ्रेंस में शामिल नहीं होना यह साफ दिखाता है कि गठबंधन में ब्लैकमेलिंग का दौर अभी भी जारी है.

इनका असली मकसद जनता का हित नहीं बल्कि सत्ता पर काबिज होना है. प्रतुल ने कहा की रामेश्वर उरांव ने बिल्कुल सही भविष्यवाणी करते हुए सही उदाहरण दिया था कि चोर चोरी करते समय तो एक रहते हैं लेकिन चोरी का माल बांटते समय उन में लड़ाई हो जाती है.

प्रतुल ने कहा कि शुक्रवार को हेमंत सोरेन ने प्रेस क्लब के भवन की प्रशंसा की. उन्हें याद रखना चाहिए कि इस भवन की नीवं रघुवर सरकार के कार्यकाल में ही रखा गया था और इसका उद्घाटन भी इसी कार्यकाल में हुआ. हेमंत जब भी अपने घर से बाहर निकलेंगे तो उन्हें सरकार के द्वारा किया गया विकास कार्य हमेशा दिखेगा.

प्रतुल ने कहा इस गठबंधन के बाद अगला चुनाव भाजपा के नेतृत्व वाली विकास के एजेंडे पर पर बने एनडीए के गठबंधन और राज्य को विनाश की ओर ले जाने का प्रयास करने वाले विपक्षी गठबंधन के बीच होगा.
प्रेस वार्ता में मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक उपस्थित थे.