कुल्लू-मनाली के लिए मनमाने दाम वसूल रहे निजी बस ऑपरेटर

कुल्लू. जिला कुल्लू में पर्यटन सीजन के चरम पर होने के चलते अब पर्यटकों को मनाली पहुंचने के लिए महंगा सफर तय करना पड़ रहा है. कुल्लू-मनाली के लिए जहां बसों की एडवांस बुकिंग करनी पड़ रही है. वही, कुछ बस ऑपरेटर इसका सीधा फायदा उठा रहे है. बस ऑपरेटर कुल्लू मनाली आने वाले पर्यटकों से बसों में मनमाने दाम वसूल रहे हैंं.

ऐसे में मनाली में अगर सैलानियों की भीड़ ज्यादा हो तो ये ट्रैवल एजेंसियां एचआरटीसी से दोगुने दाम पर अपनी बसों की टिकटें बेचना शुरू कर देती हैं. ऐसे में मनाली एक ऐसा टूरिस्ट प्लेस बन गया है, जहां पर सर्राफा बाजार कि तर्ज पर ही रोजना बाहरी राज्यों की ट्रैवल एजेंसियां निजी वोल्वो बसों के टिकटों के दाम घटाती-बढ़ाती हैं. जो मनाली घूमने आने वाले सैलानियों के साथ-साथ पर्यटन कारोबारियों में भी यह चर्चा का विषय बना हुआ है.

गौर रहे कि मनाली घूमने आने वाले सैलानियों को वीकेंड पर बाहरी राज्यों की ट्रैवल एजेंसियां भी चूना लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं. सैलानियों को दोगुने दामों पर मनाली से दिल्ली की बस की टिकटों को बेचा जा रहा है. इंटरनेट पर ऑनलाइन बेची जा रही निजी वोल्वो बसों की टिकटों की कीमत पर अभी तक किसी का भी ध्यान नहीं गया है.

हैरानी तो इस बात कि है कि एचआरटीसी की वोल्वो बस के किराए से करीब 1100 रुपए अधिक सैलानियों से वसूले जा रहे हैं. ऐसे में कुल्लू-मनाली घूमने आने वाले सैलानियों को वीकेंड के नाम पर भी खास चूना लगाया जा रहा है. कुछ ट्रैवल एजेंसियों ने बाकायदा अपनी-अपनी कंपनियों की साइट पर मनाली-दिल्ली वोल्वो बस की टिकटों की रेट लिस्ट भी दर्शा रखी है. ऐसे में सैलानियों को मजबूरन महंगे दामों पर सफर करना पड़ रहा है.

वही, आरटीओ कुल्लू डा. सुरेश जस्वाल का कहना है कि समर सीजन के नाम पर सैलानियों से वोल्वो बसों के टिकटों को महंगे दाम पर बेचना तर्क संगत नहीं है. विभाग के पास शिकायत अगर कोई करता है. तो संबंधित ट्रैवल एजेंसियों के खिलाफ कार्रवाई तुरंत की जाएगी.