”वीआईपी कल्चर को प्रदेश में सरकार कर रही प्रमोट”

कांग्रेस ने चारों संसदीय क्षेत्रों में तैनात किए प्रेक्षक-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

सोलन. सोलन के क्षेत्रीय अस्पताल में खरीदी गई वीआईपी एम्बुलेंस की खबर मीडिया में आने के बाद अब कांग्रेस भी इस खबर को लेकर सुर्ख नजर आ रही है. उन्होंने कहा कि एक और प्रदेश सरकार वीआईपी कल्चर को खत्म करने की बात कह रही है. वहीं प्रशासनिक अधिकारी जनता के पैसे का दुरुपयोग करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे और महंगी से महंगी गाड़ियां खरीद रहे है जो सरासर गलत है और इस की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए.

हिमाचल का ऐसा गांव, जहां हर घर से निकलता है एक फौजी

सोलन जिला कांग्रेस के नेता और पूर्व पार्षद अमन सेठी ने वीआईपी एम्बुलेंस खरीद पर विजिलेंस जांच की मांग की है. कहा है कि अस्पताल में पहले भी इस तरह से पैसे का दुरुपयोग होता रहा है. पहले लाखों रुपए का जरनेटर खरीदा गया था. जिस पर जांच जारी है अब उसके बाद यह वीआईपी एम्बुलेंस खरीद ली गई है. जिस पर भी विजिलेंस जांच की जानी चाहिए ताकि इस एम्बुलेंस खरीद के पीछे की मंशा सभी के सामने आ सके. उन्होंने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि एक तरफ मुख्यमंत्री कह रहे है हिमाचल पर कर्ज है और दूसरी और उन्हीं के अधिकारी लाखों की एम्बुलेंस वीआईपी के नाम पर खरीद रहे है जो सरासर गलत है.