11 पंचायतों में सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय खोले जाएंगे : गहलोत

11 पंचायतों में सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय खोले जाएंगे : गहलोत-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक अशोक गहलोत

बांसवाड़ा(डूंगरपुर). मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बांसवाड़ा जिले की यात्रा के दूसरे दिन सोमवार को सर्किट हाउस में आमजन से मुलाकात कर उनकेअभाव-अभियोग सुने. गहलोत ने लोगों की समस्याएं सुनते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह आमजन की समस्याओं का शीघ्र समाधान करें और इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतें.

मुख्यमंत्री गहलोत ने विद्युत नगर में संभाग स्तरीय निगम खेलकूद प्रतियोगिता में पहुंचकर खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया. प्रतियोगिता के आयोजक मंडल की ओर से मुख्यमंत्री का साफा बांध कर एवं माल्यार्पण कर स्वागत किया गया. गहलोत का बांसवाड़ा जिले में वाग्धरा संस्था एवं तलवाड़ा, वजवाना, भीमसौर, नयागांव, परतापुर, गढ़ी, पीएसपी कॉलेज सहित मार्ग के विभिन्न गांवों में स्वागत किया गया. ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री का फूलमालाएं पहनाकर स्वागत किया. मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से आत्मीयता से मिलकर बातचीत की.

11 पंचायतों में सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय खोले जाएंगे : गहलोत-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक अशोक गहलोत

डूंगरपुर-बांसवाड़ा-रतलाम हाईवे के कार्य में तेजी लाएंगे

डूंगरपुर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार डूंगरपुर-बांसवाड़ा-रतलाम हाइवे के कार्य में शीघ्रता लाने के प्रयास करेगी. उन्होंने क्षेत्र में पोस मशीनों में अंगूठे के निशान नहीं आने पर राशन वितरण में होने वाली समस्या के भी शीघ्र समाधान का भी आश्वासन दिया. गहलोत ने सोमवार को जिले के दौरे के दौरान डूंगरपुर के लोगों की मांग पर कई घोषणाएं की. ग्राम पंचायत कुंआ में आमजन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र में युवाओं के उच्च शिक्षा की ओर बढ़ते रुझान की सराहना करते हुए कहा कि राज्य सरकार जनजाति क्षेत्र के शैक्षिक विकास के लिए और अधिक प्रयास करेगी.

11 पंचायतों में सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय खोले जाएंगे : गहलोत-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक अशोक गहलोत

उन्होंने मौके पर ही घोषणा की कि जिले की 11 पंचायतों में जहां पर वर्तमान में सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय नहीं हैं, वहां सीनियर सेकेण्डरी विद्यालय खोले जाएंगे. गहलोत ने किसानों से कहा कि एक अप्रैल 2019 से कृषि कनेक्शन के लिए डिमांड नोटिस भरने पर तत्काल ही कनेक्शन दिए जाएंगे. उन्होंने बडगी-कुआं सड़क मार्ग का सुदृढ़ीकरण कार्य करवाने की भी घोषणा की.

इस दौरान जनजाति क्षेत्रीय विकास (स्वतंत्र प्रभार), उद्योग एवं राजकीय उपक्रम विभाग के राज्यमंत्री अर्जुनसिंह बामनिया, पूर्व कैबिनेट मंत्री महेन्द्रजीत सिंह मालवीया, पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा एवं रघुवीर मीणा, पूर्व विधायक कांता भील, बांसवाड़ा नगर परिषद के पूर्व सभापति राजेश टेलर, समाजसेवी जैनेन्द्र त्रिवेदी, विकेश मेहता, नटवर तेली, एससी आयोग की पूर्व उपाध्यक्ष देवबाला राठौड़, संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा, पुलिस महानिरीक्षक प्रफुल्ल कुमार, जिला कलक्टर आशीष गुप्ता, पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम सहित गणमान्यजन मौजूद रहे.