जाति-संप्रदाय से ऊपर उठकर काम कर रहे हैं : रघुवर दास

रघुवर दास ने कहा कि राज्य गठन के बाद पहली बार सरकार की सभी योजनाओं

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य गठन के बाद पहली बार सरकार की सभी योजनाओं को पारदर्शी तरीके से विकास के अंतिम पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य किया है. केंद्र और झारखंड सरकार जाति और संप्रदाय से ऊपर उठकर काम कर रही है. पारदर्शी शासन देना हमारी प्राथमिकता है. यही वजह है कि सरकार के प्रति जनता का विश्वास बढ़ा है. रविवार को रांची के हरमू मैदान में आयोजित शहरी समृद्धि उत्सव 2019 सह लाभुक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि शहरी समृद्धि उत्सव 2019- सह-लाभुक सम्मेलन गरीबों में आत्मविश्वास भरने का उत्सव है. यह उत्सव हम सभी को नई शक्ति, नई चेतना और नया विश्वास देता है. सम्मेलन में मुख्यमंत्री द्वारा सांकेतिक रूप से कई लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया गया.

सीएम ने कहा कि पिछले 4 वर्षों में राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने का कार्य किया है. योजनाओं परियोजनाओं से बिचौलियों की दलाली बंद हुई है. वर्ष 2014 से पहले सरकार के सभी कार्यों में बिचौलिया हावी रहते थे, परंतु अब ऐसा नहीं है. अब लाभुकों को योजनाओं का राशि सीधे डीबीटी के माध्यम से उनके बैंक अकाउंट में जाती है. शासन और जनता के बीच नज़दीकियां बढ़ी हैं और इसका सकारात्मक प्रभाव भी पड़ा है. मुख्यमंत्री दास ने कहा कि आजादी के 67 वर्ष बीत जाने के बाद भी किसी ने गरीबों के सुख-दुख की सुध नहीं ली, लेकिन केंद्र एवं राज्य कि वर्तमान सरकार ने गरीबों के सर्वांगीण विकास के लिए सभी योजनाएं गांव, गरीब और किसान सहित सभी वर्गों के हित को देखते हुए बनाई और उसे धरातल पर उतारने का काम किया.

रघुवर दास ने कहा कि राज्य गठन के बाद पहली बार सरकार की सभी योजनाओं

वर्ष 2014 से पहले देश और राज्य के गरीबों में निराशा की भावना रहती थी, लेकिन अब ऐसी स्थिति नहीं है. देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार बनने के बाद गरीबों की सोच में बदलाव आया है. लोगों में आशा की नई किरण जगी है. सरकार के प्रति विश्वास बढ़ा है. उन्होंने कहा कि झारखंड के सभी जिलों में तीव्र गति से विकास कार्य हुए हैं. सड़क, फ्लाईओवर, नाली, स्कूल, हॉस्पिटल इत्यादि कार्यों के निर्माण में तेजी आई है. राजधानी रांची में हज हाउस चार करोड़ की राशि से बनाई जा रही है.

मार्च 2019 तक हज हाउस बनकर तैयार हो जाएगा. पिछले कई वर्षों से हज हाउस के निर्माण में देरी की गई. हज हाउस निर्माण कार्य में घोटाले भी हुए, लेकिन वर्तमान सरकार ने हज हाउस का निर्माण कार्य करना प्रारंभ कर दिया है. रांची में रविंद्र भवन और नगर निगम का अपना भवन भी बनाया जा रहा है. मुख्यमंत्री दास ने कहा कि राज्य की वर्तमान सरकार ने जाति संप्रदाय से ऊपर उठकर कार्य किया है. सभी वर्गों के लोगों का सर्वांगीण विकास हो इसी सोच के साथ सरकार ने कार्य किया है. यही कारण है कि पिछले 4 वर्षों में राज्य सरकार ने कई कीर्तिमान गढ़े हैं. सभी सेक्टरों में तीव्र गति से विकास हुआ है. सभी कल्याणकारी योजनाओं के लाभ सभी वर्गों के लोगों को मिले है. राज्य में 25 लाख चिन्हित गरीबी रेखा से नीचे जीवन गुजर-बसर करने वाले परिवारों को उज्जवला योजना के तहत एलपीजी गैस एवं चूल्हे उपलब्ध कराये गये है. आने वाले दिनों में 15 लाख और गरीब परिवारों की बहनों को एलपीजी गैस एवं चूल्हे राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराये जाएंगे. इस अवसर पर रांची सांसद रामटहल चौधरी, राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार, महापौर रांची नगर निगम आशा लकड़ा, उपमहापौर संजीव विजयवर्गीय, समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष उषा पांडे, हटिया विधायक नवीन जयसवाल, नगर आयुक्त मनोज कुमार, उप नगर आयुक्त गिरजा शंकर प्रसाद सहित बड़ी संख्या में लाभुक एवं अन्य लोग उपस्थित थे.

20-20 तक सभी गरीबों को आवास उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता

मुख्यमंत्री दास ने कहा कि वर्ष 2020 तक राज्य के सभी वैसे शहरी एवं ग्रामीण परिवार जिनका अपना कोई घर नहीं है उन्हें राज्य सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अपना घर मुहैया कराएगी. उन्होंने कहा कि हर बेघर गरीब का एक सपना होता है कि उसका भी एक अपना घर हो. इस सपना को पूरा करने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2022 तक सभी को घर उपलब्ध कराने का बीड़ा उठाया है. राज्य सरकार केंद्र सरकार के साथ समन्वय बनाकर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लोगों को मिशन मोड में आवास उपलब्ध कराने पर कार्य कर रही है. मुख्यमंत्री दास ने कहा कि सरकार ऐसी होनी चाहिए जो गरीबों के हित की सोचे. गरीबों की सुने और गरीबों के लिए कार्य करे. केंद्र एवं राज्य की वर्तमान सरकार ने इसी सोच के साथ गरीबों के हित के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाओं को पूरे देश में मिशन मोड में चलाया है. राज्य सरकार ने गरीबों को देश की अर्थव्यवस्था से जोड़ने का कार्य किया है. वर्तमान सरकार के गठन के बाद झारखंड में अबतक एक करोड़ 26 लाख बैंक खाते खुले हैं.

भ्रूण जांच करने वाले डॉक्टरों को सीधे जेल भेजा जाएगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में भ्रूण हत्या जैसी अमानवीय कार्य अभी भी किए जा रहे हैं. उन्होंने जन समूह में उपस्थित लोगों से यह अपील की, बेटियों की भ्रूण हत्या न करें. उन्होंने कहा कि भ्रूण जांच करने वाले डॉक्टरों को सीधे जेल भेजा जाएगा. उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान को जन आंदोलन बनाना है. बेटियों के संपूर्ण विकास के लिए सरकार कृत संकल्पित है. बेटियों के समग्र विकास के लिए 24 जनवरी से पूरे राज्य में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना प्रारंभ की जा रही है. इस योजना के तहत बेटी के जन्म के बाद मां के खाते में 5 हजार की राशि डीवीटी के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएगी. बेटी के पहली कक्षा में नामांकन के बाद 5 हजार की सहायता राशि दी जाएगी. इसी प्रकार पांचवी, आठवीं, दसवीं और बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण होने के पश्चात बेटी के खाते में 5 हजार की सहायता राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी. 18 से 20 वर्ष की उम्र तक अविवाहित होने पर बेटियों को 10 हजार की सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान समय में बेटे और बेटियों में फर्क न करें. उन्होंने जनसमूह से अपील की, बेटियों को स्कूल भेजें और उन्हें शिक्षित करें.

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में बेटियों के लिए एक कविता समर्पित की…

पेट में से पुत्री मां से कहती है,
मां, अपनी उंगली पकड़कर मुझे चलने दे,
मां, तू मुझे इस जगत में आने दे,
मां, अपनी उंगली पकड़कर मुझे चलने दे,
तू परीक्षण भ्रूण का किसलिए कराती हो,
मां, तेरे जैसी ही तो मैं पैदा होने वाली हूं,
अपनी आकृति का पुनः सृजन होने दे,
मैं तो तेरा ही अंश हूं, तेरा ही तो अंश हूं,
मां, इस जगत में मुझे आने दे….

वर्तमान सरकार गरीबों के प्रति समर्पित सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार गरीबों के प्रति समर्पित सरकार है. उन्होंने कहा कि मैं स्वयं एक मजदूर परिवार से आया हूं. राज्य की सवा तीन करोड़ जनता ने मुझे राज्य का मुख्य सेवक बनाया है. मुख्य सेवक बनने के बाद मैंने ईश्वर से शक्ति मांगी है कि राज्य में व्याप्त गरीबी को जड़ से मिटाना है. जिस विश्वास के साथ राज्य की सवा तीन करोड़ जनता ने पूर्ण बहुमत देकर सरकार बनाने का कार्य किया है उनके चेहरे पर मुस्कान लाना मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता में से एक है.
महिला शक्ति को समाज, राज्य और राष्ट्र की शक्ति बनानी है

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने पर सरकार ने जोर दिया है. झारखंड देश का पहला ऐसा राज्य है जहां से 24 महिला किसानों को उन्नत कृषि कार्य के प्रशिक्षण के लिए इजराइल भेजा गया. इन किसान महिलाओं को इजरायल भ्रमण कर वहां की उन्नत कृषि तकनीक से संबंधित जानकारी और बारीकियों को समझने व जानने का मौका मिला है. राज्य के विकास में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होगी. महिला शक्ति को समाज, राज्य एवं राष्ट्र की शक्ति बनानी है. राज्य की महिलाओं को कृषि, पशुपालन एवं छोटे छोटे लघु कुटीर उद्योगों से जोड़कर उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाना सरकार की प्राथमिकता रही है. महिला स्वयं सहायता समूहों को राज्य सरकार द्वारा बैंक के साथ आपसी समन्वय स्थापित कर ऋण मुहैया कराया जा रहा है. महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाएं रोजगार सृजन की आधार बनी है.

कुछ शक्तियां लोगों को गुमराह करने में सक्रिय, उनसे बचें

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी भी कुछ ऐसी शक्तियां सक्रिय हैं जो आप सबों को गुमराह करने पर लगे रहती हैं. ऐसी गुमराह करने वाली शक्तियों से आप बचें. ऐसी शक्तियां गरीबों के नाम पर राजनीति करते हैं. उन्हें वोट बैंक का आधार बनाते हैं. देश में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पहली बार गरीब, आदिवासी, शोषित, दलित, वंचित के हित में कार्य होना प्रारंभ हुआ है. इनके लिए जन कल्याणकारी कार्य निरंतर चलता रहे यही हम सभी की सोच होनी चाहिए. सबका साथ सबका विकास ही सरकार का मूल मंत्र है. जनता की कसौटी पर खरा उतरने से एक अलग आनंद की अनुभूति होती है जो मैं प्राप्त कर रहा हूं क्योंकि मैंने जितने भी कार्य किए हैं सभी कार्य जनता के प्रति समर्पित हैं.

झारखंड में ट्रिपल इंजन की सरकार, सीएम रघुवर दास में विजन के साथ ही निर्णय लेने की अद्भुत क्षमता : सीपी सिंह
झारखंड के नगर विकास एवं आवास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि झारखंड में ट्रिपल इंजन की सरकार चल रही है. पहला इंजन केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार, दूसरा इंजन राज्य की रघुवर सरकार और तीसरा इंजन नगर निकाय की सरकार. उन्होंने कहा कि रांची नगर निगम प्रतिबद्धता के साथ अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहा है. सड़क निर्माण, नाली निर्माण, पेयजल की व्यवस्था, एलईडी लाइट लगाना, सभी वार्डों में साफ-सफाई इत्यादि कार्य निरंतर कारगर रूप से किए जा रहे हैं.

रघुवर दास ने कहा कि राज्य गठन के बाद पहली बार सरकार की सभी योजनाओं

रांची नगर निगम द्वारा पिछले 4 वर्षों में अब तक 40 हजार एलईडी लाइट गली-मोहल्लों में लगाई गई है. जल्द ही दस हजार लाइट और लगेगी. उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास के पास विजन के साथ ही निर्णय लेने की एक अद्भुत क्षमता है. इन्होंने सभी योजनाओं को ससमय प्रतिबद्धता के साथ धरातल पर उतारने का कार्य किया है. शहर में रहने वाले वैसे गरीब जिनके पास अपना मकान नहीं है उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास उपलब्ध कराने की बीड़ा उठाई है. राज्य सरकार द्वारा फुटपाथ दुकानदारों के लिए अटल स्मृति वेंडर मार्केट बनाने का कार्य किया गया है. 165 करोड़ की लागत से बनने वाले रविंद्र भवन का निर्माण कार्य प्रगति पर है. रांची नगर निगम का भी अपना भवन तेज गति से बन रहा है. राजधानी के सभी तालाबों का सुंदरीकरण हो रहा है. रांची स्थित बड़ा तालाब का सौंदर्यीकरण कार्य हुआ है साथ ही स्वामी विवेकानंद की आदमकद प्रतिमा का अनावरण भी मुख्यमंत्री द्वारा किया गया. रांची के सभी वार्डों में अमृत योजना के तहत बहुत जल्द ही शुद्ध पेयजल प्रत्येक घर में पहुंचाना सरकार की प्राथमिकता है.