ठेकेदारों से नाराज हैं रघुवर दास

ठेकेदारों से नाराज हैं रघुवर दास-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक रघुवर दास

रांची. राजधानी रांची में जीरो कट में हो रहे विलम्ब पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नाराजगी जतायी. उन्होंने अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि सोच समझ कर एक टाइमलाइन देनी चाहिए थी. काम को समयबद्ध तरीके के पूर्ण करें. उन्होंने कहा की झारखंड में 31 अक्टूबर तक बिजली के सुदृढ़ीकरण कार्य पूर्ण हो जाना चाहिये.

इसके बाद किसी भी हालत में डेडलाइन नहीं बढ़ाई जायेगी. उन्होंने कहा कि आजादी के 7 दशक बाद झारखंड के गांव आज बिजली से रौशन हैं. बस अब थोड़ा सा काम रह गया है, जिससे भी जल्दी ही पूरा कर लिया जायेगा. अब गुणवत्ता के साथ जीरो कट की ओर बढ़ना है. ट्रांसमिशन लाइन का काम पूरा होने से जहां दूर दराज के क्षेत्रों में बिजली की गुणवत्ता बढ़ेगी. वहीं शहरी क्षेत्रों में बिजली की स्थिति अच्छी होगी. जिन ठेकेदारों ने जो समय सीमा दी है, उस तिथि तक काम पूरा हो जाना चाहिए, अन्यथा उनकी राशि काटी जायेगी. मुख्यमंत्री गुरुवार को ऊर्जा विभाग के संचरण और वितरण की समीक्षा बैठक कर रहे थे.

मुख्यमंत्री दास ने कहा कि ज्यादातर संचरण लाइन का काम अंतिम चरण में है. संवेदकों को अगर कोई समस्या हो, तो विभाग के अधिकारियों से संपर्क करें. विभाग के अधिकारी हर 15 दिन में संवेदकों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं का निराकरण करें. किसी भी हालत में डेड लाइन नहीं बढ़ेगी.

बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. सुनील कुमार वर्णवाल, ऊर्जा विभाग की सचिव वंदना डाडेल, झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक राहुल पुरवार, संचरण लिमिटेड के निरंजन कुमार समेत विभाग के वरीय अधिकारी और संवेदक उपस्थित थे.