शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाएगी प्रदेश सरकार: डॉ. सैजल

केंद्र सरकार ने सहकारिता के उत्थान के लिए जारी किए 74 करोड़ रुपए-Panchayat Times
फाइल फोटो :राजीव सैजल

सोलन. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता और सहकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए कृतसंकल्प है और इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए 2137 उच्च, माध्यमिक तथा उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास रूम निर्मित किए गए हैं. डॉ. सैजल सोमवार को कसौली विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत जाबली की राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला राजड़ी-जाबली के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करने के उपरांत छात्रों, अध्यापकों एवं अन्य को संबोधित कर रहे थे. इस भवन के निर्माण पर लगभग 27 लाख रुपए व्यय हुए हैं.

डॉ. सैजल ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश सरकार विद्यालयों में मल्टीमीडिया टीचिंग ऐड उपयोग करेगी ताकि छात्रों को आधुनिक तकनीक के साथ नवीनतम ज्ञान उपलब्ध करवाया जा सके. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विभिन्न विद्यालयों में पढ़ाने तथा बोलचाल के कौशल को बढ़ाने के लिए 36 भाषा प्रयोगशाला भी स्थापित करेगी. प्रदेश सरकार का लक्ष्य छात्रों को उनके घरद्वार के समीप गुणवत्तायुक्त शिक्षा, विद्यालयों में बेहतर अधोसंरचना तथा भविष्य के लिए आवश्यक कौशल उपलब्ध करवाना है. इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए योजनाबद्ध कार्य आरंभ कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें- चाय की प्याली में अब खुशबू फैलाएगी छोटा शिमला की चाय

मंत्री ने कहा कि विद्यालय में विज्ञान खंड एवं परीक्षा भवन निर्मित करने, चार दीवारी स्थापित करने और बास्केटबॉल मैदान निर्मित करने की मांग को चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा. ग्राम पंचायत जाबली के प्रधान दुनीचंद धीमान ने मु यातिथि का स्वागत किया. विद्यालय की प्रधानाचार्य मीना अग्रवाल ने विद्यालय की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की और विद्यालय की मांगे मुख्यातिथि के समक्ष रखीं. इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया. इस अवसर पर जि़ला भाजपा उपाध्यक्ष एवं ग्राम पंचायत गुल्हाड़ी के प्रधान मदन मोहन मेहता, स्कूल प्रबंधन समिति राजड़ी जाबली के अध्यक्ष भूपेंद्र ठाकुर सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे.