सीएम हेमंत सोरेन से मिले चुरचू गांव के रैयत

सीएम हेमंत सोरेन से मिले चुरचू गांव के रैयत -Panchayat Times

हजारीबाग. एनटीपीसी पंकरी बरवाडीह कोल परियोजना के अंतर्गत त्रिवेणी सैनिक कंपनी कि ओर से जबरन जमीन कब्जा करने के खिलाफ उचित मुआवजा और नौकरी की मांग को लेकर चुरचू के रैयतों द्वारा आठ जनवरी से अनशन किया जा रहा है.

इस दौरान जिला प्रशासन और रैयतों की वार्ता की कोशिश असफल रही. रविवार को चुरचू गांव के ग्रामी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मिलकर आवेदन देते हुए एनटीपीसी-त्रिवेणी सैनिक द्वारा किए जा रहे जुल्म की जानकारी दी. खेतों में लगी फसल को रौंदने से लेकर आम जनता पर अत्याचार की बात बताई. ग्रामीणों ने सीएम से कहा कि एसडीओ मेघा भारद्वाज, एसी, एनटीपीसी, त्रिवेणी सैनिक के अधिकारी और पुलिस वार्ता के नाम पर बुलाकर धमकी देने का काम करते हैं. इसकी लिखित शिकायत ग्रामीणों ने आवेदन देकर किया है. मुख्यमंत्री ने रैयतों की बातों को सुनकर मुख्य सचिव को फोन पर कार्रवाई करने का आदेश दिया.