महामाया मंदिर में अखंड ज्योति बुझने की बात हुई अफवाह साबित

महामाया मंदिर में अखंड ज्योति बुझने की बात हुई अफवाह साबित-Panchayat Times

मंडी. जिला मंडी के सुंदरनगर स्थित रियासतकालीन प्रसिद्ध महामाया मंदिर में पिछले 95 वर्षों से जल रही माता की अखंड ज्योति बुझने की बात अफवाह साबित हुई है. मामले को लेकर मौके पर माता महामाया के शयन कक्ष में अखंड ज्योति जली हुई पाई गई.

बता दें कि वर्ष 1923 में सुकेतसुंदरनगर रियासत के महाराजा लक्ष्मण सेन द्वारा निर्मित महामाया मंदिर जिला मंडी सहित प्रदेश के मुख्य मंदिरों में शामिल है. मंदिर की स्थापना के समय से माता महामाया के शयन कक्ष में आस्था की प्रतीक अखंड ज्योति निरंतर जल रही है. इस अखंड ज्योति की बुझ जाने को लेकर क्षेत्र में सोशल मीडिया पर काफी बातें वाइरल हो रही थी.
वहीं मौके पर मौजूद महामाया मंदिर के पुजारी राजेश शर्मा ने कहा कि पिछले दिनों माता महामाया के शयन कक्ष में जल रही अखंड ज्योति बुझ जाने की बातें मात्र झूठ और अफवाह है.  वह पिछले पांच वर्षों से मंदिर में कार्यरत हैं और जोत बुझने को लेकर कोई घटना घटित नहीं हुई हैं.  कुछ लोग भक्तों की आस्था के साथ खिलवाड़ कर अखंड ज्योति बुझ जाने की भ्रांति समाज में फैला रहे है.