अजमेर की सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार के लिए मत समर्थन चाहता हूं : सचिन पायलट

अजमेर की सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार के लिए मत समर्थन चाहता हूं : सचिन पायलट -Panchayat Times

अजमेर. कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने अजमेर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि अजमेर पर मेरा अधिकार है. इस नाते अजमेर की दोनों सीटों उत्तर और दक्षिण पर खड़े कांग्रेस उम्मीदवार के लिए मत समर्थन चाहता हूं. सचिन ने कहा कि अजमेर की जनता नरेन्द्र मोदी, अमित शाह और योगी के बहकावे में नहीं आएं. भाजपा की वसुंधरा सरकार जा रही है. इसलिए अब उन्हें भगवान और उनकी जातियां याद आ रही हैं.

सचिन ने कहा कि वसुंधरा सरकार हो या केंद्र की मोदी सरकार इस जुमलों की सरकार ने लोगों के घरों की रसोई तक का हिसाब बिगाड़ दिया. महंगाई के मुद्दे पर सत्ता में आयी भाजपा के राज में पेट्रोल, डीजल, देशी घी महंगा हो गया है. यही वजह है कि इस विधानसभा चुनाव में भाजपा मुद्दों की बात ना करके भगवान की जातियों की बात कर लोगों को लुभाने में लगी हुई है.

सचिन ने सभा में आए करीब 4 हजार श्रोताओं से शपथ ली कि वे उनके लौटने के बाद मोदी, शाह और योगी के बहकावे में नहीं आए और मतदान की तिथि पर समय पर घर से निकल कर कांग्रेस के पक्ष में मतदान करें. पायलट ने स्वयं अजमेर के बजाय टोंक से चुनाव लड़ने को लेकर भी सफाई दी.

टोंक से चुनाव लड़ने का आदेश कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी का था. पायलट ने अजमेर से भावनात्मक रिश्ता होने की बात कहते हुए अजमेर का आभार व्यक्त किया की अजमेर की वजह से ही उनके राजनीतिक जीवन को बुलंदिया मिली. पायलट ने दावा किया की राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है. ऐसे में अजमेर की सहभागिता के लिए जरुरी है कि अजमेर की जनता अजमेर उत्तर से कांग्रेस उम्मीदवार महेंद्र सिंह रलावता और अजमेर दक्षिण से हेमंत भाटी की जीता कर विधानसभा में भेजे.

उन्होंने अजमेर से सांसद रहते कराए विकास कार्यों को भी गिनाया. एयरपोर्ट, केंद्रीय विश्वविद्यालय, ट्रेने संचालित किए जाने को अपने खाते में बताया.

पूरा पांडाल भरा

अजमेर का आजाद पार्क जहां पिछले दिनों भाजपा के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ ने भाजपा उम्मीदवार वासुदेव देवनानी, अनिता भदेल व सुरेश सिंह रावत के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया था. लेकिन, पूरा पांडाल भरने में भाजपा नाकाम रही थी. सोमवार को सचिन पायलट जब आजाद पार्क में कांग्रेस उम्मीदवार महेन्द्र सिंह रलावता व हेमंत भाटी के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे तो पांडाल पूरी तरह से भरा नजर आया.

सवाल जवाब भाजपा की तर्ज पर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जिस तरह अपने संबोधन के दौरान जनता से सवाल जवाब करते हैं. उसी तरह इन दिनों कांग्रेस के नेता भी संबोधन के दौरान जनता से सवाल जवाब करते नजर आ रहे है. ऐसा ही एक नजारा सोमवार को सचिन पायलट की सभा में देखने को मिला. सचिन पायलट ने सभा के दौरान जनता से पेट्रोल, डीजल व महंगाई के मुद्दों पर सवाल किए.

कांग्रेस की फूट भी दिखी

मुख्य पोस्टर से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नदारद नजर आए. आजाद पार्क में आयोजित कांग्रेस की जनसभा में सचिन पायलट और अशोक गहलोत की गुटबाजी एक बार फिर देखने को मिली. जनसभा में मंच के पीछे लगाए गए मुख्य पोस्टर में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तस्वीर नदारद थी. सभा के दौरान यह कांग्रेस कार्यकताओं में चर्चा का विषय रही. गौरतलब है कि अजमेर उत्तर के कांग्रेस प्रत्याशी महेन्द्र सिंह रलावता और अजमेर दक्षिण के उम्मीदवार हेमंत भाटी दोनों पायलट खेमें से आते हैं इसलिए माना जा रहा कि जनसभा के मुख्य पोस्टर से गहलोत का पोस्टर नदारद रहा.