झारखंड की दो बेटियों का भारतीय महिला हॉकी टीम की जीत में अहम योगदान

रांची. भारतीय महिला हॉकी टीम ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए FIH सीरीज को जीत लिया है. इस जीत में टीम के हर खिलाड़ी का अहम योगदान है. वहीं, फाइनल मुकाबले में जापान को हराने में झारखंड के दो खिलाड़ियों का योगदान भी कम नहीं है. सलीमा टेटे और निक्की प्रधान ने भारत की इस जीत में अहम भूमिका निभाई है.

 प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में भारत ने मेजबान जापान को 3-1 से हरा दिया. इस जीत से पूरे देश में खुशी की लहर है. हॉकी में झारखंड के प्लेयर्स की भूमिका अहम होती है. अच्छे-अच्छे प्लेयर्स झारखंड से निकले हैं. इस विजेता महिला हॉकी टीम में जो दो प्लेयर्स हैं. उनमे से निक्की प्रधान खूंटी जिले से आती हैं. वहीं सलीमा टेटे सिमडेगा जिले की बरकीछापर गांव से हैं. भारत की इस शानदार जीत के बाद झारखंड हॉकी के अधिकारी भी बेहद खुश हैं. अब भारतीय महिला टीम ने 2020 के टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई भी कर लिया है. यह झारखण्ड के लिए भी बहुत ही गौरव की बात है कि टीम में हमारे दो-दो बेटियों को जगह मिली है.

ये भी पढ़ें- भारतीय महिला हॉकी टीम ने FIH वूमेन्स सीरीज जीता

सीएम रघुवर दास ने भी महिला हॉकी की इस शानदार जीत की बधाई दी है

कैसा था फाइनल मुकाबला

भारतीय महिला हॉकी टीम ने एफआईएच वूमेन्स सीरीज फाइनल्स का खिताब जीत लिया है. रविवार को खेले गए खिताबी मुकाबले में भारतीय टीम ने मेजबान जापान को 3-1 से शिकस्त देकर खिताब पर कब्जा किया. इस मुकाबले में भारतीय टीम ने आक्रामक शुरूआत की और मैच के तीसरे ही मिनट में पेनल्टीकार्नर को कप्तान रानी ने गोल में बदलकर भारतीय टीम को 1-0 से आगे कर दिया. मैच के 11वें मिनट में कानोन मोरी ने गोल कर जापान को 1-1 की बराबरी दिला दी. हॉफ टाइम तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर रहीं.

हॉफ टाइम के बाद मैच के 45वें मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर मिला और इस बार गुरजीत कौर ने इसे गोल में बदलकर भारत की बढ़त 2-1 कर दी. मैच के आखिरी मिनट में गुरजीत कौर ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलकर भारत को 3-1 से खिताबी जीत दिला दी. भारतीय टीम की कप्तान रानी के बेस्ट प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई दी है.