शांता कुमार की बदौलत ही गद्दी समुदाय को मिला प्रतिनिधित्व : किशन कपूर

सांसद किशन कपूर ने मंत्री पद से दिया त्याग पत्र-Panchayat Times

धर्मशाला. सांसद शांता कुमार के गद्दी समुदाय को लेकर दिए गए बयान के बाद मचे बवाल पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री किशन कपूर ने शांता और भाजपा को हमेश गद्दी समुदाय का हितैषी करार दिया है. कपूर ने कहा कि प्रदेश के गद्दी समुदाय को बांटने का काम कांग्रेस ने किया है जबकि भाजपा ने गद्दी समुदाय को हमेशा ही सम्मान दिलाया है.

सोमवार को धर्मशाला में पत्रकारों से बातचीत में किशन कपूर ने कांग्रेस प्रदेश महासचिव रजनीश किमटा ने सांसद शांता कुमार पर की गई बयानबाजी पर कांग्रेस को आड़े हाथ लिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भरमौर और अन्य जगहों पर रहने वाले गद्दी समुदाय के लोगों को बांटने का प्रयास किया. भरमौर में गद्दी समुदाय को एसटी का दर्जा दे दिया लेकिन प्रदेश के अन्य जगहों पर रहने वाले गद्दियों को एसटी का दर्जा नहीं दिया. ऐसा कांग्रेस ने वोट की राजनीति के चलते किया.

उन्होंने कहा कि गद्दी समुदाय हमेशा ही भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार का आभारी रहेगा. जिन्होंने केंद्रीय मंत्री रहते बाकी क्षेत्रों के गद्दियों को एसटी का दर्जा दिलवाया. इसके साथ ही गद्दियों पहचान बनाने के लिए भी हम शांता कुमार के आभारी हैं. शांता कुमार की बदौलत ही धर्मशाला, बैजनाथ, भटियात व भरमौर से गद्दी समुदाय को विधानसभा चुनाव में प्रतिनिधित्व मिला.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आज तक गद्दी समुदाय की अनेदखी ही की. ठाकुर सिंह भरमौरी के अलावा कांग्रेस ने किसी अन्य गद्दी समुदाय के व्यक्ति को राजनीति में कोई अधिमान नही दिया. भाजपा हमेशा गद्दी समुदाय की हितैषी रही है इसलिए यह समुदाय भाजपा व शांता को हमेश ऋणी रहेगा.

कांग्रेस पर हमला बोलते किशन कपूर ने आगे कहा कि कांग्रेस देश में घटिया बयानबाजी के लिए पहचाने जाने लगी है. बयानबाजी का इतना घटिया स्तर आज तक नहीं देखा जो कांग्रेस के नेताओं का है. प्रदेश कांग्रेस महासचिव रजनीश किमटा ने शिमला में मीडिया से बातचीत में कहा था कि शांता कुमार का गद्दी समुदाय के प्रति आया बयान हिमाचल को बांटने वाला है.