पत्नी के लिए खरीदी चूड़ी, पिता ने की कुल्हाड़ी से हत्या

पत्नी के लिए खरीदी चूड़ी, पिता ने की कुल्हाड़ी से हत्या - Panchayat Times

चतरा. चतरा के हंटरगंज प्रखंड के लेंजवा गांव में एक पिता ने रिश्ते को तार-तार करते हुए अपने जवान बेटे निर्मल भारती को टांगी से काटकर मार डाला. इस बेटे का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपनी पत्नी के लिए एक बोरी धान बेचकर चूड़ी खरीद ली थी. इससे भी दर्दनाक यह कि पिता के गुस्से के शिकार हुए युवक की सालभर पहले ही शादी हुई थी. मामले में पुलिस ने हत्या के आरोपी रामजी भारती को हिरासत में ले लिया है. परिवार के लोगों ने बताया कि निर्मल भारती की पत्नी देवंती देवी के हाथ में चूड़ी नहीं देखकर निर्मल की मां कलावती देवी ने बेटे को बहू के लिए चूड़ी लाने को कहा था.

मां ने कहा था धान बेचकर बहू के लिए ला दो चूड़ी 

पैसा नहीं होने की बात पर कलावती ने अपने बेटे को घर में रखे धान में से एक बोरा धान बेचकर चूड़ी लाने की बात कही थी. मां के आदेश पर निर्मल ने धान बेचकर पत्नी के लिए चूड़ी लाया. जब देर रात निर्मल के पिता रामजी भारती घर पहुंचा और बहू के हाथ में चूड़ी देखते ही उसने पूछा कि पैसे कहां से आए. जब उसे धान बेचने की जानकारी मिली तो आग बबूला हो उठा. बिना इजाजत धान बेचने की बात से आक्रोशित पिता ने अपने बेटे को टांगी से काट डाला.

हत्या का एहसास होते ही सन्नाटे में आया पिता

घटना के बाद निर्मल की मां कलावती देवी के चिल्लाने पर आसपास के लोग जमा हो गए. उधर, मृतक की पत्नी देवंती देवी भी सदमे में चली गई है. वह बार-बार बेहोश हो रही है. उधर, आसपास के लोग उनके घर के बाहर जमा रहे. घटना के बाद हत्या का एहसास होते पिता खामोश होकर बेटे के शव के पास बैठा रहा. दूसरे दिन सुबह घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस गांव पहुंची और शव को कब्जे में लेने के बाद हत्यारे पिता को हिरासत में ले लिया. पुलिस के पूछताछ में उसने बताया कि वह टांगी की बेत से मारने जा रहा था. लेकिन गलती से टांगी की धार गर्दन में लग गयी. इससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई.