बस किराया वृद्धि के खिलाफ सड़कों पर उतरी कांग्रेस, सरकार के खिलाफ नारेबाजी

जेईई-नीट परीक्षा के खिलाफ कांग्रेस का शिमला में प्रदर्शन-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. प्रदेश सरकार द्वारा बस किराए में की गई 25 फीसदी बढ़ोतरी के विरोध में शुक्रवार को जिला भर के कांग्रेस नेताओं ने सड़क पर उतर कर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने शहीद स्मारक से जिलाधीश कार्यालय धर्मशाला तक रैली निकाली. इस दौरान बढ़ती महंगाई के विरोध में बैनर थामे कांग्रेसियों ने जयराम सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अजय महाजन, पूर्व राज्यसभा सांसद विप्लव ठाकुर, पूर्व सांसद चन्द्र कुमार, विधायक आशीष बुटेल, काजल समेत अन्य नेताओं ने प्रदेश सरकार से बस किराये में वृद्धि तुरंत प्रभाव से वापस लेने की मांग की. महाजन ने कहा कि अगर बस किराया तुरन्त कम न किया गया तो प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे.

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से पैदा हुए संकट में सूबे के लाखों लोगों का रोजगार छूट गया है. लोग आजीविका के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं, लेकिन प्रदेश सरकार लोगों की परेशानियां कम करने की बजाय लगातार जनविरोधी निर्णय ले रही है. कांग्रेस जनता पर डाले जा रहे महंगाई के बोझ को बर्दाश्त नहीं करेगी. इस दौरान जिला उपायुक्त कार्यालय के बाहर भारी भीड़ जुटने से सामाजिक दूरी की अवहेलना भी हुई. कांग्रेस नेताओं ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बस भाड़े में बढ़ोतरी के खिलाफ उपायुक्त कांगड़ा के जरिये सरकार को ज्ञापन नहीं सौंपा व यहीं से वापस लौट गए. 

उधर उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने कहा कि जिला मुख्यालय में धारा 144 लागू होने के बावजूद सार्वजनिक कार्यक्रमों व प्रदर्शनों में सामाजिक दूरी के उल्लंघन को जिला प्रशासन कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। उनका कहना है नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी।