दो साल से लापता बुजुर्ग का कंकाल मिला जंगल में

दो साल से लापता बुजुर्ग का कंकाल मिला जंगल में-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. जिला शिमला के रामपुर उपमंडल की ननखड़ी तहसील के घने जंगल में बीते दो साल से लापता 70 वर्षीय बुजुर्ग का कंकाल मिलने से हड़कंप मच गया. कंकाल के पास मिले जूतों से उसके पुत्र ने शिनाख्त की. पुलिस ने कंकाल के अवशेष कब्जे में ले लिए हैं और परीक्षण के लिए इन्हें फॉरेंसिक लैब भेजा जाएगा.

ननखड़ी के पुनन-खनेरी जंगल में रविवार दोपहर कुछ लोग लकड़ी बीनने गए हुए थे. इसी दौरान उन्हें पत्थरों के बीच मानव कंकाल के अवशेष दिखाई दिए. कंकाल का सिर अलग पड़ा हुआ था और पास में ही जूते भी थे. जानकारी मिलते ही ननखड़ी पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई. दो साल पहले इलाके से एक बुजुर्ग लापता हुआ था. उसका बेटा भी घटनास्थल पर पहुंचा. वहां मिले जूतों से इस बात की पुष्टि हुई कि कंकाल उसके बुजुर्ग पिता का है.

रामपुर के उपपुलिस अधीक्षक अभिमन्यू वर्मा ने बताया कि यह कंकाल ननखड़ी के घहालटी गांव के रहने वाला 70 वर्षीय जबलू राम पुत्र फागनू राम का होने की आशंका है. वह बीते करीब दो साल से गायब चल रहा था. उसके परिजनों ने 26 अप्रैल 2017 को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. कंकाल के अवशेष परीक्षण के लिए फॉरेंसिक लैब भेजे जाएंगे। इस संदर्भ में सीआरपीसी 174 के तहत केस दर्ज कर आगामी कार्रवाई की जा रही है.