प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पर अमल शुरू

किसानों के लिए संजीवनी बनकर बरसी सोलन में बारिश-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

नारनौल. किसानों की आय को बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पर अमल करना शुरू कर दिया है. जिला राजस्व अधिकारी सतीश यादव ने सोमवार को इसकी विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इस संबंध में पंचायत भवन में जिले के सभी पटवारियों व ग्राम सचिवों की बैठक ली गई. इसके साथ ही उन्हें काम पर जुटने के निर्देश दिए गए.

जिला राजस्व अधिकारी ने बैठक में निर्देश दिए कि सभी ग्राम सचिव और पटवारी अपने गांव के नंबरदार व सरपंचों से मिलकर किसानों के कागजात तैयार रखने को कहें. उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन कि ओर से ग्राम स्तर की समिति बनाई जा रही है जो गांव में जाकर किसानों के फॉर्म भरवाएगी. इस कमेटी में पटवारी, एडीओ व ग्राम सचिव शामिल हैं. इसमें नंबरदार व सरपंच की मौजूदगी रहेगी. इसी मंगलवार से गांव में जाकर फॉर्म भरने का काम शुरू हो जाएगा. इसलिए किसान अपने कागजात तैयार रखें.  अभी इस योजना की चार महीने की पहली किश्त दो हजार रुपए सीधे किसानों के खाते में डाली जाएगी.

यादव ने किसानों को सूचित कर अपने बैंक पासबुक की फोटो कॉपी और आधार कार्ड आदि तैयार रखने के निर्देश दिए. इस योजना के तहत परिवार में पति-पत्नी और उसके नाबालिग बच्चों को शामिल किया गया है. इस तरह केवल एक परिवार को 6000 रुपये प्रति वर्ष मिलेंगे.

ये होगी जिला स्तर की कमेटी

जिला राजस्व अधिकारी ने बताया कि इस योजना के लिए जिला स्तर पर कृषि उपनिदेशक को नोडल अधिकारी बनाया गया है. साथ ही जिला स्तर पर बनाई गई कमेटी में उपायुक्त इसके अध्यक्ष होंगे. एडीसी, डीआरओ, डीडीपीओ, डीआईओ और लीड बैंक मैनेजर इसके सदस्य रहेंगे. डीडीए इसके सदस्य सचिव होंगे. इस योजना के बारे में अगर किसी किसान को कोई दावा या आपत्ति करनी है तो उसे कृषि उप निदेशक के कार्यालय में अपनी बात रखनी होगी.

किसान सम्मान निधि योजना

केंद्र सरकार ने देश के किसानों को राहत देने के लिए इस योजना की शुरुआत की है. किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार किसानों को 6000 रुपए हर साल देगी. किसानों को सीधे राहत देते हुए उन किसानों को इस योजना से लाभान्वित करेगी जिनके पास 40 कनाल तक जमीन है. यह राशि सीधे उनके खाते में जमा होगी. यह पहली किश्त एक दिसम्बर 2018 से 31 जनवरी 2019 तक की है. योजना के तहत एक फरवरी 2019 को पात्र तारीख माना गया है. यानी इस दिन तक उस किसान के नाम जमीन होनी चाहिए.

किसान सम्मान निधि योजना 2019 की मुख्य बातें
-एक दिसम्बर 2018 से इस योजना को पूरे देश में लागू कर दिया गया है.
-किसान निधि योजना के लिए 75000 करोड़ रुपये का आवंटन की रकम तय की गई है.
-2022 तक किसानों की आय को दोगुनी करने का उद्देश्य सुनिश्चित किया गया है.
-किसान सम्मान निधि योजना का लाभ देश के लगभग 12 करोड़ किसानों को मिलेगा.