नेशनल हाईवे परियोजनाओं का रघुवर दास ने किया शिलान्यास

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास का कहना है कि कांग्रेस के...Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक रघुवर दास

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास गुरुवार को जमशेदपुर हिल व्‍यू के पास भारतीय नेशनल हाईवे प्राधिकरण की ओर से आयोजित नेशनल हाईवे परियोजनाओं के शिलान्यास समारोह में शामिल हुए. यहां पर उन्होंने कहा है कि सड़क और पुल सिर्फ गांव से शहर को नहीं जोड़ते बल्कि दो दिलों को भी जोड़ते हैं.

यह हाईवे जमशेदपुर की लाइफलाइन

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश और राज्य में जोड़ने की ही क्रांति हो रही है. सड़क आर्थिक, सामाजिक और पर्यटन स्थलों को जोड़ने का मार्ग. आधारभूत संरचना से ही राज्य और देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हो सकती है. इसलिए देश में आज चार और छह लेन वाली सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है. रांची-टाटा हाइवे का काम लंबे समय से रुका था. यह हाईवे जमशेदपुर की लाइफलाइन है. ठेकेदार की गलत नीतियों के कारण 50 प्रतिशत काम होने के बाद भी कार्य अधूरा पड़ा हुआ था. लेकिन आज खुशी की बात है कि इस हाईवे के निर्माण में आ रही सभी समस्याओं को दूर कर लिया गया है और अगले अठारह महीनों में यह बनकर तैयार हो जाएगा.

नेशनल हाईवे परियोजनाओं का रघुवर दास ने किया शिलान्यास-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक रघुवर दास

हवाई चप्पल पहनने वाले भी हवाई यात्रा कर सकेंगे

दास ने कहा कि अगले दो साल में यहां एयरपोर्ट का निर्माण कार्य भी पूरा हो जाएगा, जिसके बाद हवाई चप्पल पहनने वाले लोग भी हवा में यात्रा कर सकेंगे. उन्होंने जनता को आगाह करते हुए कहा कि कुछ दल जाति व संप्रदाय के नाम पर लोगों को तोड़ने का काम कर रहे हैं, जिनसे बच कर रहने की जरूरत है. आज देश में मजबूत सरकार होने के कारण ही भारत ने पाकिस्तान के घर में घुसकर हवाई हमला किया. देश में पहले तो आतंकियों को चिकेन और बिरयानी खिलाई जाती थी, लेकिन अब मोदी सरकार आतंकियों को बुलेट का जवाब बम से दे रही है.

बाबा बैद्यनाथ धाम का विकास सरकार की प्राथमिकता : रघुवर दास

रघुनाथ मुर्मू के नाम पर चौक का नामकरण

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने संथाली भाषा की लिपि के जनक पंडित रघुनाथ मुर्मू के नाम पर चौक का नामकरण करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सिर्फ नामकरण ही नहीं कर रही बल्कि ओल चिकी लिपि को भी पहचान दिला रही है. केंद्र में रही मोदी सरकार ने ही आदिवासियों के लिए अलग मंत्रालय बनाया. संथाली को भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में जगह दिलाई. धर्मांतरण कानून का निर्माण हुआ. अब राज्य में पहले से पांचवीं क्लास तक के बच्चों की पढ़ाई भी मातृभाषा में होगी. संथाल परगना के सात जिलों के रेलवे स्टेशनों पर अब संथाली भाषा में भी उद्घोषणा होगी.

नेशनल हाईवे परियोजनाओं का रघुवर दास ने किया शिलान्यास-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक रघुवर दास

विपक्ष पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे राज्य सरकार संथाल परगना इलाके के विकास के लिए प्रतिबद्ध है. जबकि संथाल इलाके से तीन-तीन मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी, शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन झारखंड में हुए, लेकिन किसी ने भी संथाल के विकास के लिए कुछ नहीं किया.

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने जमशेदपुर के भुईयांडीह में लिट्टी चौक से भिलाइपाड़ा के बीच स्वर्णरेखा नदी पर चार लेन वाले पुल के निर्माण की भी घोषणा की. इसके अलावा उन्होंने आदिवासी और दलित बहुल गांवों में डीप बोरिंग कर जलमीनारों का निर्माण कराने की घोषणा होगी. इस अवसर पर राज्य के खाद्य सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले विभाग के मंत्री सरयू राय ने कहा कि इस शिलान्यास के साथ दोमुहानी पुल और दोमुहानी-कांदरबेड़ा रोड का भी शुभारंभ हो रहा है. इसके अलावा सांसद जमशेदपुर विद्युत वरण महतो व पथ निर्माण विभाग के सचिव कमल किशोर सोन ने भी संबोधित किया.

नितिन गडकरी ने वीडियो के माध्यम से भेजा संदेश

इस अवसर पर केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग विभाग के मंत्री नितिन गडकरी ने वीडियो फिल्म के जरिए अपने संदेश दिया. उन्होंने अपने संदेश में कहा कि झारखंड में रांची से जमशेदपुर को जोड़ने वाली नेशनल हाईवे रोड के गतिरोधों को दूर कर लिया गया है और आने वाले 18 महीनों में निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा. उन्होंने अपने संदेश में कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण झारखंड के सर्वांगीण विकास में अहम भूमिका निभाएगा. गडकरी को इस कार्यक्रम में आना था लेकिन अपरिहार्य कारणों से वे नहीं आ सके.