‘‘प्रदेश सरकार साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेगी’’

‘‘प्रदेश सरकार साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेगी’’-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

सोलन. जल शक्ति, बागवानी एवं सैनिक कल्याण मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कृषि एवं बागवानी वैज्ञानिकों से आग्रह किया कि वह फलों एवं पुष्पों की ऐसी किस्में तैयार करें जो हिमाचल की जलवायु के अनुरूप हों और कीटरोधी हों. महेन्द्र सिंह ठाकुर मंगलवार को डाॅ. यशवन्त सिंह परमार, बागवानी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, नौणी, सोलन में ‘प्रेक्टिसिस ऑफ पैकेजिज फाॅर फ्रूट एंड ओर्नामेंटल क्राॅप्स’ विषय पर दो दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का शुभारम्भ करने के बाद उपस्थित वैज्ञानिकों एवं बागवानी विभाग के अधिकारियों एवं अन्य को सम्बोधित कर रहे थे.

उन्होंने इससे पूर्व विश्वविद्यालय में 20 लाख रुपए की लागत से निर्मित पुष्प खेती की क्षेत्रीय प्रयोगशाला एवं विक्रय केन्द्र का लोकार्पण भी किया. महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि वैश्विक उष्मता के कारण खेती एवं बागवानी पहले से कहीं अधिक चुनौतीपूर्ण हो गई है और इस कारण वैज्ञानिकों का कार्य भी बढ़ गया है.

बागवानी मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लिए कृतसंकल्प है. स्वस्थ और स्वच्छ हिमाचल प्रदेश बनाने के लिए बागवानी एक महत्वपूर्ण साधन है. उन्होने सभी का आह्वान किया कि अपनी कार्यशैली के प्रति अधिक जागरूक और परिणामोन्मुखी रहें. मौन पालन व्यवसाय को बागवानी की प्रत्येक परियोजना में शामिल किया जाना चाहिए क्योंकि यह एक व्यवसाय के साथ-साथ बागवानों की पैदावार बढ़ाने में सहायक है.