फेक न्यूज़ के दौर में वाट्सएप से आई अच्छी खबर

वाट्सएप के एक ग्रुप से जुड़ कर एक राजस्थानी कपल की जिंदगी बदल गई

नई दिल्ली. हाल के दिनों में फेक न्यूज की वजह से बदनाम हुए सोशल मीडिया से ही एक अच्छी खबर आ रही है. वाट्सएप के एक ग्रुप से जुड़ कर एक राजस्थानी कपल की जिंदगी बदल गई है. पति-पत्नी ने इस फिटनेस ग्रुप से जुड़कर अपने आप को इतना फिट कर लिया है कि लोग अब इन्हे ‘पावर कपल’ कह कर बुलाते हैं.

40 साल के आदित्य शर्मा का वजन 72 किलो था, वहीं उनकी पत्नी गायत्री शर्मा 62 किलो की थी. लेकिन जब 2015 में वे जितेंद्र चौकसी के वाट्सएप फिटनेस ग्रुप में ज्वाइन हुए तबसे इस कपल ने अपनी बॉडी को फिट रखने की प्रतिज्ञा ली. और इनकी मदद की इस ग्रुप ने जिसमें इन्हें लगातार एडवाइज मिलती रही कि कैसे फिट रहना है ? कैसे एक्सरसाइज करना है ? डाइट क्या रहेगा ? आदि. इसका ये परिणाम हुआ कि कपल ने अपने वजन को कम तो किया ही साथ ही फिटनेस ऐसी कि सबके मुंह से वाह ही निकलता है. महज 12 सप्ताह में ही इस कपल ने आश्चर्यजनक रूप से अपने वजन को कम कर लिया है. आदित्य 72 से 58 किलो पे आ गए वहीं गायत्री 62 से 53 किलो पे आ गई. वहीं गायत्री की कमर जहां पहले 32 इंच की थी वो अब महज 26 की हो गई है. और आदित्य ने भी अपने कमर को 34 से 29 में लाने में सफल हुए हैं.

वाट्सएप के एक ग्रुप से जुड़ कर एक राजस्थानी कपल की जिंदगी बदल गई

साल 2016 में जितेंद्र चौकसी ने एक एप बनाया जिसका नाम रखा ‘Squats’. और इसे प्रमोट करने के लिए उनके पास ज्यादा फंड नहीं था, तो इसे वाट्सएप ग्रुप में ही इस एप को प्रमोट किया गया. लेकिन ये आइडिया काम कर गया. और देखते ही देखते इस एप को 10 मिलियन लोगों ने डाउनलोड कर लिया है. जिसके बाद हजारों लोगों ने अपने वजन को कम कर लिया है वो भी कम समय में और बिना सर्जरी के.

ये भी पढ़ें- ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ का फॉर्म भरकर भेजो, दो लाख पाओ : जाली खबर

गायत्री कहती हैं पहले परिवार में किसी ने उन्हें इस दौरान नहीं सराहा था, सिवाय उनके पति आदित्य के. हमने साथ-साथ सीखा और फिर साथ में ही वर्कआउट किया. आदित्य और गायत्री एक साधारण मारवाड़ी परिवार से आते हैं. आदित्य एक सरकारी कर्मचारी हैं. गायत्री भी बच्चों की देखभाल करते हुए अपने फिटनेस पर ध्यान नहीं दे पाती थी, लेकिन एक वॉट्सएप ग्रुप के कारण इनकी जिंदगी बदल गई. इस कपल ने अपना एक जिम भी खोल दिया है. और अब लोगों को ये फिटनेस का मंत्र देते हैं.

वाट्सएप के एक ग्रुप से जुड़ कर एक राजस्थानी कपल की जिंदगी बदल गई

इस कहानी से हम सीख सकते हैं कि सोशल मीडिया का हम अगर सही इस्तेमाल करें तो इससे लाखों लोगों की जिंदगी में पोजिटिव बदलाव कर सकते हैं. लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाने में सोशल मीडिया से बड़ा कोई हथियार हो नहीं सकता.