स्कूलों में परिवहन सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देशों का सख्ती से हो पालन : सुरेश भारद्वाज

शिमला. शिक्षा, विधि व संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने स्कूलों में परिवहन सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि इन दिशा-निर्देशों की अवहेलना करने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी. वह शुक्रवार को शिमला में स्कूलों में परिवहन सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देशों के संबंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे.

बैठक में जिला प्रशासन, शिक्षा विभाग, पुलिस विभाग, परिवहन विभाग, एचआरटीसी के अधिकारियों, निजी व सरकारी स्कूलों के प्रधानाचार्य, टैक्सी यूनियन के प्रतिनिधियों सहित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया.
सुरेश भारद्वाज ने कहा कि स्कूल के छात्रों की सुरक्षा सबसे आवश्यक है. सरकार की ओर से जारी परिवहन सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देशों का मुख्य उद्देश्य अपने भावी नागरिकों की रक्षा करना है. उन्होंने स्कूलों में परिवहन सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अभिभावकों तथा एसएमसी को भी जागरूक करने का आग्रह किया.

उन्होंने कहा कि छात्रों तथा युवाओं के स्वास्थ्य, उनके भविष्य तथा सशक्त राष्ट्र के निर्माण के लिए नशा सेवन के खिलाफ व्यापक अभियान चलाने की आवश्यकता है. प्रदेश सरकार की ओर से इस संबंध में कई प्रयास किए जा रहे हैं.
स्कूल के छात्रों को नशा सेवन बुराई से दूर रखने के लिए अभिभावकों और अध्यापकों को भी विशेष ध्यान देना चाहिए. शिक्षा केवल पुस्तकों का ज्ञान ही नहीं, बल्कि छात्र का सर्वांगीण विकास होता है.

उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने जिला शिमला में स्कूलों में परिवहन सुरक्षा से संबंधित जिला प्रशासन की ओर से उठाए गए विभिन्न कदमों की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि स्कूलों में परिवहन सुरक्षा संबंधित दिशा-निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए निगरानी भी सुनिश्चित की जा रही है.

बैठक में स्कूलों में परिवहन सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देशों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई.
बैठक में उपायुक्त शिमला अमित कश्यप, अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक प्रवीर ठाकुर, निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ. अमर देव, निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा मनमोहन सिंह, एडीएम मती प्रभा राजीव, जीसी नेगी, आरटीओ भूपेंद्र अत्री, उपमंडलाधिकारी मती नीरज चांदला, अनिल शर्मा, आरएम मौजूद रहे.