प्रवेश पत्र नहीं मिलने पर बिरसा कॉलेज के गेट पर छात्रों ने जड़ा ताला

इण्टरमीडिएट परीक्षा का एडमिट कार्ड प्राप्त नहीं होने पर बिरसा कॉलेज के गेट पर छात्र-छात्राओं ने जड़ा ताला - Panchayat Times

खूंटी. जिले के बिरसा कॉलेज के मेन गेट पर आज छात्र-छात्राओं ने ताला जड़ दिया. मामला इण्टरमीडिएट की परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड प्राप्त नहीं होने पर छात्र संगठन ने रोष व्यक्त करते हुए यह कदम उठाया है.

बता दे कि ऑनलाइन एडमिट कार्ड की पूरी जिम्मेवारी एक एजेंसी को दी गयी थी. बिरसा कॉलेज के अन्य सभी छात्रों का एडमिट कार्ड आ गया. लेकिन 24 छात्र -छात्राओं का एडमिट कार्ड पेंडिंग रह गया.

इण्टरमीडिएट परीक्षा का एडमिट कार्ड प्राप्त नहीं होने पर बिरसा कॉलेज के गेट पर छात्र-छात्राओं ने जड़ा ताला - Panchayat Times

इस पूरे मामले को लेकर 30 जनवरी से ही छात्र एडमिट कार्ड नहीं मिलने की शिकायत कॉलेज प्रिंसिपल और कॉलेज प्रबंधन से की लेकिन प्रिंसिपल का कहना है कि जैक को मामले की पूरी जानकारी दी गयी, लेकिन अब तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गयी है. उधर कॉलेज के छात्र संगठनों ने कॉलेज प्रबंधन पर पूरा ठीकरा फोड़ते हुए गेट पर ताला लगाकर नारेबाजी करते हुए विरोध जताया.

मामला को गंभीर होता देख खूंटी जिला प्रशासन ने कॉलेज परिसर में पुलिस बलों की तैनाती कर दी. वहीं मामले को तूल पकड़ता देख खूंटी अनुमंडल पदाधिकारी प्रणव पॉल ने कॉलेज में लॉ एंड आर्डर की जिम्मेवारी संभाल ली है.

इण्टरमीडिएट परीक्षा का एडमिट कार्ड प्राप्त नहीं होने पर बिरसा कॉलेज के गेट पर छात्र-छात्राओं ने जड़ा ताला - Panchayat Times

उधर छात्र -छात्राओं का कहना है कि जब तक कॉलेज प्रबंधन एडमिट कार्ड को लेकर लिखित जवाब नहीं देता है तब तक कॉलेज गेट बंद रहेगा. इस पूरे मामले को लेकर कॉलेज के छात्र-छात्राएं चार दिन पूर्व जिला प्रशासन से मिलकर मामले का कोई न कोई हल निकालने को लेकर मुलाकात की थी.

अब सवाल यह उठता है कि आखिर इन 24 छात्र -छात्राओं के एडमिट कार्ड पेंडिंग मामले का जिम्मेवार कौन है? कॉलेज प्रबंधन,कंप्यूटर एजेंसी, जैक या फिर खुद छात्र-छात्राएं. सभी इस पूरे मामले पर एक दूसरे पर आरोप लगाकर अपनी जिम्मेवारी से पल्ला झाड़ने में लगे हैं लेकिन अब यह पूरा मामला कहीं न कहीं छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होता हुआ दिखाई पड़ रहा है.