प्रत्याशियों की बेचैनी बढ़ी, कभी भी हो सकती है नामों की घोषणा

प्रत्याशियों की बेचैनी बढ़ी, कभी भी हो सकती है नामों की घोषणा

जयपुर. प्रदेश में दीपावली बाद अब प्रत्याशियों की बेचैनी बढ़ गई है. भाजपा-कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की ओर से पहली सूची तैयार कर ली गई जो अब कभी भी सामने आ सकती है. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस की रविवार देर रात तक पहली सूची आ सकती है.

उल्लेखनीय है कि दोनों राजनीतिक दल दीपावली तक कोई विवाद या धरने प्रदर्शन नहीं चाहते थे. कांग्रेस-भाजपा दोनों दलों में 100 से ज्यादा ऐसी सीटें है, जहां पर विरोध होना तय माना जा रहा है. जहां भाजपा में मौजूदा विधायकों के नाम कटने से तो कांग्रेस में यह विरोध सत्ता विरोधी लहर होने का माहौल होने के कारण टिकट नहीं मिल पाने के कारण दावेदारों की रहेगी. ऐसे में दोनों दलों में बेचैनी बढ़ गई है. हर नेता टिकट मिलने के लिए आश्वस्त नहीं है. इस बार लक्ष्मी पूजन पर भी नेताओं की टिकट मिलने की आस और प्रार्थना ही भगवान से रही.

कांग्रेस में फिर बदले नाम

कांग्रेस में एक बार फिर प्रत्याशियों की तय सूची में बड़ा बदलाव किया गया है. पहले तय हो चुके 150 से ज्यादा नाम से आधे बदल दिए गए. सूत्रों की माने तो तय की गई सूची में युवाओं और महिलाओं की पर्याप्त भागेदारी नहीं दिखने पर आलाकमान की नाराजगी के बाद नाम पलटे गए हैं. इसमें जयपुर, उदयपुर, सीकर, अजमेर में नाम पलटने की चर्चा है. वहीं, जयपुर शहर से कांग्रेस इस बार दो महिला उम्मीदवार उतार सकती है. वहीं पूरे जिले में करीब पांच महिला प्रत्याशी हो सकती हैं. कांग्रेस में करीब 50 महिलाओं को टिकट मिलने की चर्चा है तो युवाओं को करीब 30 सीटों पर भागेदाररी मिल सकती है.