सुंदरनगर की समझदार गाय: बिना छुए ही दूध की धारा बहाती है

शेहकरा गांव
अपने आप दूध देने वाली गाय

सुंदरनगर (मंडी). सुंदरनगर उपमंडल की डोलधार पंचायत के शेहकरा गांव में गाय बीना दुहे ही दूध दे रही है. इस गांव में नरपत राम की गौशाला में बंधी जरसी नस्ल की गाय बीते कुछ समय से खुद ही दूध दे रही है. रोजाना सुबह और शाम गाय खुद ही दूध देना शुरू कर देती है. कुछ दिन पहले जब गाय के थन से खुद ही दूध की धारा बहने लगी तो परिवार अचंभित हो गया क्योंकि पशु पालन इस परिवार का पुश्तैनी काम है लेकिन इससे पहले कभी ऐसा नहीं देखा.

ये भी पढ़ें- हिमाचल में झोपड़ी वाले अमीर और कोठी वाले गरीब

सुबह और शाम को गाय के थन से दूध की धारा खुद ही प्रवाहित होने लग जाती है. नरपत राम के बेटे विनोद कुमार ने बताया कि उन्हें इस बात की खुशी है कि उनके घर ऐसी गाय है जो खुद ही दूध देने लग जाती है. उन्होंने बताया कि गाय के एक बच्चा पहले से है और गाय ने फिर से गर्भ धारण कर लिया है लेकिन गाय अभी भी रोजाना अच्छा दूध दे रही है.

हार्मोन की कमी, चमत्कार नहींं

सुंदरनगर स्थित पशु चिकित्सक डॉ. राकेश शर्मा ने बताया कि गाय को खुराक ठीक मिल रही है जिससे उसमें दूध की मात्रा ज्यादा है लेकिन थन को सख्त बनाए रखने वाले हार्मोन की कमी के कारण दूध खुद ही निकल रहा है. उन्होंने बताया कि ऐसे केस लाखों में एक होते हैं. डॉ. राकेश ने बताया कि उन्होंने अपनी नौकरी के इतिहास में यह पहला केस देखा है. इस पूरे मामले में सुखद बात यह है कि गांव के लोग इसे किसी चमत्कारी घटना के साथ जोड़कर नहीं देख रहे और गौशाला के पास दर्शनों के लिए इकट्ठे नहीं हो रहे, वरना इस स्थान के चर्चा में आने को देर नहीं लगती.