चिड़गांव में आग से लकड़ी का तीन मंजिला मकान राख

चिड़गांव में आग से लकड़ी का तीन मंजिला मकान राख-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

शिमला. जिले के रामपुर उपमण्डल के चिड़गांव इलाके की जांगला पुलिस चौकी के अंतर्गत बिचाड़ी गांव में बुधवार रात तीन मंजिला मकान जलकर राख हो गया. मकान जलने से पीड़ित परिवार बेघर हो गया है. आग लगने की वजह से करीब बीस से तीस लाख रुपए का नुकसान आंका गया है. हालांकि आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है. पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम आगजनी के कारणों की जांच कर रही है.

अग्निकांड से खाक हुआ मकान चमन लाल पुत्र भजन दास का था, उसमें 12 कमरे थे. मकान लकड़ी का बना था. इस कारण आग तीव्रता से फैली और पूरा मकान पल भर में राख के ढेर में बदल गया. पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आगजनी की घटना रात तीन बजे के करीब हुई.

जब पूरा परिवार सो रहा था. इसी बीच एक कमरे से धुआं उठते देख परिवार को आग लगने का आभास हुआ और सभी सदस्य जान बचाकर बाहर निकले. चन्द मिनटों में आग की लपटों ने लकड़ी के बने मकान को चपेट में ले लिया और पूरा मकान धू-धू कर जल गया.

दीवाली की रात आधा दर्जन जगहों पर आग, दो दुकानें राख

यह मकान बिचाड़ी गांव में सुनसान जगह पर था. इस कारण गांव वाले आग बुझाने मौके पर नहीं पहुंच पाए. गांव के लिए सड़क संकरी होने के चलते दमकल वाहन भी घटनास्थल पर नहीं पहुंच पाए. आज सुबह चिड़गांव थाना पुलिस का दल और स्थानीय ग्राम प्रधान ने बिचाड़ी पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया. पीड़ित परिवार को गांव में शरण देने की व्यवस्था की गई है.

जांच अधिकारी अच्छर सिंह ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है और आगजनी के कारणों की जांच की जा रही है. शुरुआती पड़ताल में आग का कारण शार्ट सर्किट सामने आया है. उन्होंने कहा कि आगजनी में सम्पति को भारी नुकसान पहुंचा है, लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ है.