सुखराम के आने से कांग्रेस पार्टी हुई मजबूत : दीपक शर्मा

सुखराम और आश्रय के वापस आने से कांग्रेस परिवार हुई बढ़ोतरी : दीपक शर्मा -Panchayat Times
साभार इंटरनेट

मंडी. पं. सुखराम और उनके पोते आश्रय शर्मा का डेढ़ साल बाद एक बार फिर कांग्रेस पार्टी में वापस लौटने पर मंडी जिला कांग्रेस ने स्वागत किया है. मंडी जिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपक शर्मा ने कहा कि पं. सुखराम और पूर्व में पार्टी के महासचिव आश्रय शर्मा के वापस आने से कांग्रेस परिवार में जहां बढ़ोतरी हुई है. वहीं पर मंडी जिला ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में कांग्रेस पार्टी मजबूत हुई है.

दीपक शर्मा ने आरोप लगाया कि भाजपा में बुजूर्गों को कभी भी मान सम्मान नहीं मिला है. वह चाहे लालकृष्ण आडवानी हो, मुरली मनोहर जोशी, पं. सुखराम, शांता कुमार, खिमीराम, रूप सिंह, महेश्वर सिंह सभी घुटन महसूस कर रहे हैं. ऐसे में पं. सुखराम और उनके पोते आश्रय शर्मा वापस कांग्रेस में आए हैं, उनका मंडी जिला कांग्रेस पार्टी स्वागत करती है. इससे न केवल कांग्रेस पार्टी को मजबूती मिलेगी. बल्कि कांग्रेसजनों में उत्साह है और प्रदेश की चारों सीटें कांग्रेस की झोली में डालेंगे. कांग्रेस कार्यकर्ताओं का यह जोश भाजपा को इस चुनाव में सबक सिखाएगा.

उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी की जीत पक्की है. मंडी संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस का प्रत्याशी कौन होगा, इसका निर्णय 31 मार्च को हो जाएगा. उन्होंने बताया कि 31 मार्च को दिल्ली में पार्टी हाई कमान की बैठक में प्रदेश की चारों सीटों पर उम्मीदवार तय किए जाएंगे. दीपक शर्मा ने अपनी दावेदारी के सवाल पर कहा कि मैं दावेदार हूं ,क्योंकि मैंने पार्टी से टिकट के लिए आवेदन किया है.

उन्होंने कहा कि यह तय करना पार्टी हाई कमान का काम है कि किसे टिकट दिया जाना है. दीपक शर्मा ने कहा कि भाजपा अब यह कहकर पर्दा डाल रही है कि पं. सुखराम और आश्रय शर्मा ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण नहीं की थी.  जब दोनों ने भाजपा का पटका पहन कर उनका मंच साझा किया है. जबकि डेढ़ साल पूर्व उन्होंने कांग्रेस पार्टी छोड़ी थी. अब उनकी घर वापसी हुई है.