सरकार की ओर से दी जा रही वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित : निदेशक

रांची. स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक डॉ. सुमंत मिश्रा ने कहा कि सरकार की ओर से दी जा रही वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है. उन्होंने पलामू के मेदिनीनगर में लोइंगा गांव में आठ अप्रैल को टीकाकरण के बाद हुई बच्चों की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि दोषियों को बक्शा नहीं जायेगा. शुक्रवार को सूचना भवन सभागार में मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच चल रही है. जल्द ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट एवं अन्य रिपोर्ट आने पर मौत के कारणों का पता चल सकेगा.

उन्होंने कहा कि सारे वैक्सीनों के रखरखाव में पूरी सर्तकता बरती जाती है. तापमान का भी ध्यान रखा जाता है. वैक्सीन पूर्णतयाः सुरक्षित है. गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जा रहा है. लोग अपने बच्चों का नियमित टीकाकरण कराएं.

निदेशक ने कहा कि झारखंड में नियमित टीकाकरण किया जा रहा है, जिससे शिशु मृत्यु दर में काफी गिरावट आई है. सरकारी यह दर अब भारत सरकार के शिशु मृत्यु दर के औसत आंकड़े से भी कम है, जो सराहनीय है. हमें इस दर को और कम करना है.

उन्होंने कहा कि झारखंड में सरकारी अस्पतालों,स्वास्थ्य केंद्रों एवं आंगनबांडी केंद्रों में लगभग 90 प्रतिशत टीकाकरण किया जा रहा है, जो खुशी की बात है कि लोग हम पर विश्वास कर रहे हैं.

भारत सरकार के वैक्सीन जांच केंद्र कसौली एवं कोलकाता में इस मामले की जांच हो रही है. जल्द रिपोर्ट देने का आग्रह किया गया है ताकि बच्चों की मौत के कारण का पता चल सके.

कॉमेंट करें

अपनी टिप्पणी यहाँ लिखें
अपना नाम यहाँ लिखें