ब्लड बैंक से खून बेचने के मामले में युवक को पकड़कर पुलिस को सौंपा

ब्लड बैंक से खून बेचने के मामले में युवक को पकड़कर पुलिस को सौंपा-Panchayat Times

हजारीबाग. ब्लड बैंक से लेकर बाजार में खून बेचने के आरोप में नवाबगंज में स्थापित रोवल जांच घर के मालिक साहिल अली को स्थानीय लोगों की मदद से गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के अनुसार इटखोरी चकतवार से डिलीवरी करवाने सरस्वती देवी सोमवार को सदर अस्पताल में भर्ती हुई थी. उसके पति संजय कुमार से दो यूनिट ब्लड के नाम पर 10 हजार रुपए ले लिया गया.

इस संबंध में भुक्त भोगी ने बताया कि ब्लड लेने के लिए वह पहले ब्लड बैंक गए. जहां ब्लड बैंक के कर्मियों ने एक नंबर दिया और कहा की इस नंबर पर बात करें. जब बात किया तो रोवल जांच घर में बुलाया गया,जहां युवक ने दो यूनिट ब्लड का 10 हजार डिमांड किया. जिसके बाद संजय ने उन्हें 10 हजार दे दिए. पैसे लेने के बाद युवक ने 1 यूनिट ही ब्लड दिया और फरार हो गया. बाद में एक दूसरे युवक ने फ्री में अपना ब्लड डोनेट किया.

संजय ने आगे बताया की वे पैसा लेकर फरार युवक को खोजबीन में लग गये , जब दुकान पर पहुंचे तो बताया की जिस युवक को पैसे दिए थे वो रुपये लेकर फरार हो गया है. बाद में स्थानीय लोगों के सहयोग से युवक को पकड़कर सदर थाने में लाया गया और वहां पैसा लौटा दिया गया. ब्लड डोनेट करने वाले युवक ने सदर थाना में आवेदन दिया है कि जरूरतमंदों को ब्लड निशुल्क देता है. महिला पति सदर हॉस्पिटल में रो रहा था ,नजर पड़ी तो पूछा तो उसे ब्लड की आवश्यकता थी और उस महिला को मुफ्त में 1 यूनिट ब्लड दिया.

वहीं पकड़ा गया युवक खून बेचने का धंधा करता है. यह व्हाट्सएप पर लिखकर डोनेट करने वाले युवक को बुलाता है फिर ब्लड लेकर उसे 5000 में बेच देता है.पकड़े गए युवक से बड़ी खुलासा होने की संभावना है. वही इस संबंध में सदर थाना प्रभारी नीरज सिंह ने कहा है कि अभी जांच चल रही है, जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.