स्वच्छ छवि वाले व्यक्ति को मिले भाजपा का टिकट : अरुण चतुर्वेदी

जयपुर. सूबे की सत्ता पर काबिज भाजपा में टिकट के लिए अभी भी घमासान मचा हुआ है. टिकट के दावेदार दिल्ली और जयपुर दरबार में ढोक लगा रहे हैं. वहीं, पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व ने सभी विधानसभा क्षेत्रों में नए सिरे से पैनल बनाने के निर्देश दिए हैं.

पार्टी आलाकमान के निर्देश पर प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी धौलपुर पंहुचे. टिकट के लिए नए सिरे से पैनल तैयार किया है. चतुर्वेदी ने यहां भाजपा कार्यालय में पार्टी पदाधिकारियों और संघ के नेताओं से टिकट के संबंध में फीडबैक लिया. भाजपाईयों ने धौलपुर के विकास और कार्यकर्ताओं की भावनाओं को देखते हुए पार्टी आलाकमान से मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को राजाखेडा से चुनाव लडाने की मांग की.

इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने चतुर्वेदी से कहा कि कुछ नेताओं के विरुद्व कई गंभीर मामले लंबित होने की चर्चाएं हैं. ऐसे में पार्टी हित में स्वच्छ छवि वाले व्यक्ति को ही भाजपा की टिकट दिया जाए. भाजपा सूत्रों ने बताया कि अब नए सिरे से नाम तय होने के बाद में जिले की चारों विधानसभा क्षेत्रों में तीन से चार नामों का पैनल तैयार किया गया है. इस पैनल को प्रदेश की ओर से केन्द्रीय संसदीय बोर्ड को भेजा जाएगा,जहां पर टिकट के लिए प्रत्याशियों के नाम पर अंतिम मौहर लगेगी.

पार्टी सूत्रों के मुताबिक अब राजाखेडा विधानसभा क्षेत्र के पैनल में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, भाजपा नेता राजपाल जादौन,जयवीर पोषवाल एवं मंडल अध्यक्ष नागवेन्द्र सिंह के नाम बताए जा रहे हैं. इसी प्रकार धौलपुर विधानसभा के पैनल में वर्तमान विधायक शोभारानी के अलावा राजस्थान वक्फ विकास परिषद के चेयरमैन अब्दुल सगीर खान और हाल में धौलपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष का पद छोड़कर भाजपा में शामिल हुए अशोक शर्मा का नाम है.

बाडी में पूर्व विधायक जसवंत सिंह गुर्जर,युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष रामहेत कुशवाह एवं पूर्व जिला प्रमुख दुर्गासिंह अंधाना के नाम हैं. वहीं, बसेडी में वर्तमान विधायक रानी सिलोटिया,पूर्व विधायक सुखराम कोली,युवा मोर्चा नेता तपस्या कोली एवं पूर्व जिला प्रमुख रामवती देवी के नाम हैं. इस कवायद के चलते कई तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. अब टिकट वितरण में और देरी होना तय माना जा रहा है.