लोकसभा चुनाव : शांता कुमार के साथ ये दिग्गज होंगे बीजेपी के स्टार प्रचारक

लोकसभा चुनाव : शांता कुमार के साथ ये दिग्गज होंगे बीजेपी के स्टार प्रचारक-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. लोकसभा चुनाव को लेकर आचार संहिता लागू होने के साथ ही भाजपा ने चुनाव के मकसद से हिमाचल के हर घर में पहुंचने की रणनीति तय की है. रणनीति के तहत भाजपा प्रदेश में चार सौ के करीब रैलियां करेगी. पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह के अलावा स्टार प्रचारकों की फेहरिस्त तैयार है. प्रदेश के सभी 256 जिला परिषद वार्डों में अप्रैल महीने के अंत तक रैलियां होंगी.

मोर्चों व अन्य अग्रणी संगठनों की बैठकों का आयोजन चुनाव के मद्देनजर किया जाएगा. संगठन के बूते भाजपा प्रदेश में लोकसभा के मिशन 2019 को कामयाब बनाने की कोशिश में है. सनद रहे कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव में प्रदेश की चारों संसदीय सीटों पर जीत का लक्ष्य तय किया है. आचार संहिता लागू होने के साथ ही पहले भाजपा ने कोर ग्रुप की बैठक बद्दी में की. इसके बाद शिमला में चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक वीरवार को होनी है. इसके साथ ही संसदीय क्षेत्रों में कार्यशालाओं का आयोजन तय किया गया है.

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने बताया कि प्रदेश में जिला परिषद के 256 वार्ड हैं. पार्टी इन सभी वार्डों में रैलियां करेगी. इसके अलावा पीएम मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा और अन्य स्टार प्रचारकों के साथ-साथ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर व पूर्व मुख्यमंत्री प्रौ. प्रेम कुमार धूमल और शांता कुमार स्टार प्रचारकों में होंगे. इन सभी की रैलियां होंगी. महिला व युवा मोर्चा के अलावा किसान मोर्चा और अन्य अग्रणी संगठनों की बैठकें होंगी. केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं को मोर्चों व कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों तक पहुंचाया जाएगा. मोदी और जय राम सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों से भी भाजपा कार्यकर्ता मिलेंगे.

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कांग्रेस बेवजह भाजपा पर आरोप लगा रही है. उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अलावा केंद्र की मोदी सरकार ने गरीबों को आशियाना मुहैया करवाने, उज्जवला .योजना, किसना सम्मान निधि तथा सामान्य वर्ग को दस फीसद आरक्षण जैसे महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं.  कांग्रेस ने देश पर 52 साल शासन किया, मगर अमेठी व रायबरेली के गांवों में बिजली मोदी सरकार ने पहुंचाई. अगर अमेठी व रायबरेली का विकास ही नहीं हुआ तो कांग्रेस ने देश का विकास कितना किया होगा, यह समझा जा सकता है.