सुंदरनगर धमाकों की यह है असली वजह

सुंदरनगर धमाकों की यह है असली वजह-Panchayat Times
प्रतीक चित्र

सुंदरनगर (मंडी). पिछले दो दिनों से सुंदरनगर और नेरचौक में दो बड़े धमाकों की आवाज से डरने की कोई बात नहीं है. यह आवाज किसी धमाके की नहीं वायु सेना के जेट प्लेन की है. प्रशासन की ओर से इस आवाज के पीछे का सच का पता लगा लिया गया है.

प्रशासन की ओर से पता चला है कि पंजाब में वायु सेना की अभ्यास के दौरान सुंदरनगर में आसमान से फायटर जेट गुजरे थे. जब यह तेज गति से हवा में उड़ रहे होते है तो यह आवाज पैदा होना स्वभाविक है. जब दो लड़ाकू जहाज पास-पास चलते हैं और साउंड बैरियर पार करते है. मतलब दोनों की आवाज आपस में टकराती है तो ऐसा धमाका होता है.

आखिर कैसे हुआ सुंदरनगर में दिल दहलाने वाला धमाका ?

यह आकाश में ही होता है. कोई जमीन पर नुकसान नहीं होता है. जब सुपर सोनिक अर्थात आवाज की गति से तेज कोई विमान वायुमंडल को भेदता है तो ऐसी विस्फोटक आवाज होती है. जुटाई गई जानकारी के अनुसार अब यह जानना जरूरी है कि क्या इन दोनों दिनों में कोई सेना के लडाकू विमान इस इलाके से गुजरे थे या नहीं.

यह भी संभव है कि इन विमानों की ऊंचाई इतनी अधिक रही होगी कि दोनों की आवाजाही की आवाज नहीं सुनाई दी होगी. क्योंकि सुपर सोनिक बूम इतना जोर का धमाका होता है. मानो आपके आसपास ही हुआ हो. ऐसे दो मामले कुछ महीने पहले मनाली और बरोट घाटी में भी सामने आए थे. जब बड़े धमाकों के बाद लोग घरों से बाहर आ गए थे. मगर उन दोनों मामलों में सेना की तरफ से अभ्यास होने का बयान आने से वजह साफ हो गई थी.