”आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग करने वालों को संविधान की नहीं है समझ”

''आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग करने वालों को संविधान की नहीं है समझ''-Panchayat Times
''आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग करने वालों को संविधान की नहीं है समझ''

सोलन. भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सोनकर शिमला जाते समय कुछ देर के लिए सोलन में रुके. सोलन पहुंचने पर उनका सांसद वीरेंद्र कश्यप, भाजपा नेता राजेश कश्यप और कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी के साथ स्वागत किया. आने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उनका दौरा काफी अहम माना जा रहा है. जिसमें  राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद कुमार अपने कार्यकर्ताओं और अनुसूचित जाति मोर्चा के पदाधिकारियों को चार्ज करेंगे और आने वाले चुनाव में जीत कैसे हासिल की जाए इस बारे में आवश्यक टिप्स भी देंगे.

अधिक जानकारी देते हुए भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सोनकर ने बताया कि आने वाले चुनाव में अनुसूचित जाति मोर्चा अहम रोल अदा करने वाला है. केंद्र की उपलब्धियों और चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को जन-जन तक कैसे पहुंचाना है. इस बारे में पदाधिकारियों को जागरूक किया जा रहा है. ताकि आने वाले चुनाव में जीत हासिल की जा सके. जब उनसे युवाओं की आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग के बारे में पूछा गया तो वह अधीर हो गए और उन्होंने आर्थिक आधार पर आरक्षण करने वाले युवाओं को नासमझ बताया और कहा कि अनुसूचित जाति को आरक्षण छूआछूत को आधार मान कर मिला था. इसलिए अगर आर्थिक आधार पर आरक्षण होता है तो भी अनुसूचित जाति का आरक्षण जारी रहेगा.