जाम से निपटने के लिए बेअसर साबित हो रहीं सभी योजनाएं

आनी (कुल्लू). उपमण्डल मुख्यालय आनी में लगने वाले ट्रैफिक जाम से निपटने के लिए प्रशासन की ओर से बनाई गई योजना कारगर साबित नहीं हो पा रही है. जिसकी वजह से जाम की समस्या से दो-चार होना पड़ रहा ही. सोमवार को मरीज को लेकर आ रही 108 एंबुलेंस तकरीबन पौना घंटा आनी कस्बे में जाम में फंसी रही. पौने घण्टे के कंडुगाड़ से आनी अस्पताल तक के रास्ते को एंबुलेंस को पार करने में करीब डेढ़ घण्टा लग गया.

बेतरतीब खड़े वाहन बन रहे समस्या

वहीं दर्जनभर वाहन और एचआरटीसी की बस भी इसी जाम में फंसी रही. आनी कस्बे के समीप पहुंचते ही सड़क बेहद सकरी है. पासिंग पॉइंट्स की कमी है होने और जहां पासिंग पॉइंट्स हैं भी वहां अक्सर वाहन खड़े कर दिए जाते हैं. पुलिस ऐसे बेतरतीब पार्क गाड़ियों के चालान तो करती है, लेकिन हर बार कोई नया वाहन चालक आकर वाहन पार्क कर जाता है.

60 पंचायतों का केंद्र बिंदु होने के कारण बढ़ी वाहनों की आवाजाही

आनी कस्बा, आनी निरमंड की 60 पंचायतों के अलावा साथ लगते मंडी जिले की भी कई पंचायतों का केंद्र बिंदु है. उपमंडल मुख्यालय होने के अलावा आनी कस्बा व्यापारिक केंद्र भी है. यहां कस्बे में सड़क बेहद सकरी है, जबकि सुबह नौ से 10 और शाम को तीन से पांच बजे तक बसों के अलावा कई अन्य वाहनों की आवाजाही अपने चरम पर रहती है. जिस दौरान अक्सर जाम लगने की सबसे ज्यादा संभावनाएं रहती है.

विभागीय योजना नहीं हुई साकार

बीते कई साल से लगातार पेश आ रही इस समस्या का आजतक कोई ठोस समाधान नहीं हो पाया है. प्रशासन अक्सर पुलिस, अन्य विभागों और कुछ स्थानीय लोगों के साथ मिलकर बैठकें करता है और योजनाएं बनाता है, लेकिन यह योजनाएं धरातल पर दो-चार दिन या एक सप्ताह से ज्यादा नहीं चल पाती. जिसके कारण समस्या फिर पैर पसार रही है.

मानना होगा ट्रैफिक नियम

पुलिस थाना आनी के एसएचओ भाग सिंह ने कहा कि जब तक आनी में पार्किंग व्यवस्था दुरुस्त नहीं होगी, लोग अपने वाहनों को बेतरतीब खड़ा करना बंद नहीं करेंगे और जब तक लोग ट्रैफिक नियमों को मानना शुरू नहीं करेंगे, तब तक समस्या यूं ही पांव पसारती रहेगी.

जल्द दूर होगी समस्या

आनी की एसडीएम पूजा चौहान ने कहा कि मैंने अभी हाल ही में कार्यभार संभाला है और जाम की समस्या के कारणों और समाधानों पर जल्द गौर करने के बाद मिलकर समस्या को निपटाने के प्रयास किये जायेंगे.

कॉमेंट करें

अपनी टिप्पणी यहाँ लिखें
अपना नाम यहाँ लिखें