ट्रैकिंग रूटों पर अब जल्द सैलानियों को मिलेगी इंटरनेट की सुविधा

कुल्लू. जिला कुल्लू के ट्रैकिंग रूटों पर जाने वाले सैलानियों के लिए राहत भरी खबर है. प्रशासन जल्द ही खीरगंगा और रोहतांग पर मोबाइल टावर स्थापित करने जा रहा है. ताकि रूट पर जाने वाले पर्यटक आपात स्थिति में इंटरनेट और फोन सुविधा का लाभ उठा सके.

प्रशासन ने इस बारे मोबाइल कंपनियों से संपर्क साधने शुरू कर दिए है और रोहतांग पर टावर लगाने के लिए एक कंपनी ने हामी भी भरी है. वहीं, गो कुल्लू वेबसाइट से ट्रैकिंग रूट पर जाने वाले सैलानियों को जोड़ने के लिए भी प्रशासन बड़े बड़े होर्डिंग्स लगाने जा रहा है.

मोबाइल कंपनियों से भी बात की जा रही है कि जैसे ही कोई पर्यटक हिमाचल में प्रवेश करता है तो उसे मोबाइल फोन में मैसेज के माध्यम से गो कुल्लू गो वेबसाइट का ब्योरा मिल सके. पर्यटक उस वेबसाइट में अपनी डिटेल एंटर कर सके. ताकि आपात स्थिति में ट्रैकर को सहायता मिल सके.

वहीं, इसके प्रचार के लिए नेशनल हाइवे किनारे पर होर्डिंग लगाकर गो कुल्लू वेबसाइट पर पंजीकरण करने के लिए कहा जाएगा. इसी के साथ टूअर एंड ट्रेवलर्स डेस्क, पर्यटन सूचना केंद्र, होटल के ट्रेवल डेस्क समेत अन्य जगहों में कहीं ट्रेकिंग पर जाने से पहले इस वेबसाइट में पंजीकरण को लेकर जानकारी दी जाएगी.

डीसी यूनुस ने बताया कि ‘गो कुल्लू वेबसाइट’ की जानकारी पर्यटकों तक अधिक से अधिक पहुंचाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे. ताकि कोई भी पर्यटक कुल्लू घाटी की वादियों में लापता न हो. देशभर में इस वेबसाइट की चर्चा की गई है. लेकिन, पर्यटक पंजीकरण में लापरवाही बरत रहे हैं.