उड़ान परियोजना के अंतर्गत विषिष्ट जनजाति महिलाओं को किया जा रहा है सशक्त, बांटी गई सब्जी बीज किट

उड़ान परियोजना के अंतर्गत विषिष्ट जनजाति महिलाओं को किया जा रहा है सशक्त, बांटी गई सब्जी बीज किट - Panchayat Times

देवघर. उपायुक्त नैंसी सहाय के निर्देशानुसार जेएसएलपीएस के उड़ान परियोजना के अंतर्गत विषिष्ट जनजाति समूहों के पोषण संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए पहाड़िया परिवारों में पोषण वाटिका विकसित कराया जा रहा है.

इसके तहत पालाजोरी प्रखंड अंतर्गत भुरकुंडी पंचायत के दसियोडीह गांव में सब्जी बीज कीट का वितरण जिला कार्यक्रम प्रबंधक, प्रकाश रंजन, जिला प्रबंधक मनोज कुमार मित्रा के संयुक्त तत्वाधान में किया गया.

उड़ान परियोजना के अंतर्गत विषिष्ट जनजाति महिलाओं को किया जा रहा है सशक्त, बांटी गई सब्जी बीज किट - Panchayat Times

स्वालंबन हेतु कई प्रकार के कार्य

इस संबंध में डीपीएम प्रकाश रंजन ने’ बताया कि उड़ान परियोजना के अंतर्गत विषिष्ट जनजाति महिलाओं के स्वालंबन हेतु कई प्रकार के कार्य किए जा रहे है पोषण वाटिका उनके घर के आसपास होने से पोषण के प्रति उनकी जागरूकता के साथ साथ अनेक स्वास्थ्य सम्बंधित समस्या से मुक्ति मिलेगी साथ ही पूरा परिवार स्वस्थ जीवन यापन कर पाएंगे. प्रखंड के 30 गांवों में सब्जी बीज कीट का वितरण 295 पहाड़िया परिवारों के बीच किया जाना है.

निःशुल्क दिया जा रहा है सब्जी बीज किट

सब्जी बीज किट निःशुल्क दिया जा रहा है जिसमें उत्तम किस्म के आठ प्रकार के बीज बोदी, खीराए पालक, भिण्डी सेम, मूली, झिंगी एवं कद्दू शामिल है. इस पोषण वाटिका का विकास पूरी तरह से जैविक विधि से किया जाना है. यह सभी बीज सत्यापित और उत्तम बीज हैए जो कि हाई क्वालिटी वैरायटी के है और उनकी उपज काफी उच्च कोटी की होती है, जो 3 से 4 माह में तैयार हो जाती हैए जिससे तहत बागवानी करने से लोगों को सब्जियों की खरीदारी के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा.