‘उज्ज्वला योजना से सरकार की नीयत व नीति का पता चलता है’

'उज्ज्वला योजना से सरकार की नीयत व नीति का पता चलता है'-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक रघुवर दास

पलामू. मुख्यमंत्री रघुवर दास शनिवार को मेदिनीनगर में आयोजित उज्ज्वला दीदी सह अतिरिक्त रिफिल वितरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे. यहां पर उन्होंने जनता को सबोंधित करते हुए कहा कि 2014 से पहले झारखंड समेत पूरे देश में एलपीजी कनेक्शन को लेकर परेशानी थी. अब 2019 के परिप्रेक्ष्य में देखें तो स्थिति में बदलाव नजर आएगा. 2014 से पूर्व झारखंड में करीब 16 लाख 80 हजार एलपीजी कनेक्शन था.  2019 में यह बढ़कर 55 लाख 40 हजार हो गया. 2014 में पलामू प्रमण्डल के केवल 13.60 प्रतिशत परिवार में एलपीजी कनेक्शन वही 2019 में 78.52 प्रतिशत परिवार में एपीजी कनेक्शन हो गया.

सीएम ने आगे कहा कि इस परिवर्तन में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का महत्वपूर्ण योगदान है. इस योजना ने राज्य के गरीबों तक एलपीजी की पहुंच बना उनके रसोई घर को धुआं मुक्त बना दिया. यह यात्रा अभी समाप्त नहीं हुई है. क्योंकि हमें अभी और 10 लाख परिवार तक एपीजी सिलिंडर और चूल्हा पहुंचाना है. मुझे इस बात की खुशी है कि अब सरकार अकेले एपीजी कनेक्शन पहुंचाने का कार्य नहीं करेगी, बल्कि राज्य व पलामू की 773 उज्ज्वला दीदियां भी घर घर को एपीजी से आच्छादित करने में अपनी महती भूमिका निभाएंगी.

‘झारखंड विधानसभा चुनाव में इस बार 65 पार’

राज्य सरकार चूल्हा और दो रिफिल दे रही है निःशुल्क

मुख्यमंत्री ने कहा कि नया भारत, नया झारखंड तभी बनेगा जब राज्य और देश की नारी शक्ति सशक्त होंगी. इस शक्ति की पुंज को हमें राज्य की शक्ति बनाना है. केंद्र सरकार ने नारी शक्ति को सशक्त करने के लिए एलपीजी सिलिंडर उज्ज्वला योजना के तहत प्रदान किया. केंद्र सरकार के इस पुनीत कार्य को आगे बढ़ाते हुए राज्य सरकार चूल्हा और दो रिफिल निःशुल्क दे रही है. महिला सशक्तीकरण की दिशा में यह सहायक होगा. सखी मंडल के माध्यम से सरकार महिलाओं को आर्थिक स्वावलंबन प्रदान कर रही हैय 2 लाख सखी मंडल के माध्यम से महिलाएं खुद सबल बनते हुए दूसरों को भी प्रेरणा प्रदान कर रहीं हैं. आज पलामू की 60 सखी मंडल के बीच वितरित किया गया 7 करोड़ रुपए का चेक उनकी प्रगति को आगे बढ़ाएगा.

युवा शक्ति, किसान शक्ति और महिला शक्ति के साथ हम आगे बढ़ रहें हैं

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवा शक्ति, किसान शक्ति, महिला शक्ति के साथ झारखंड आगे बढ़ रहा है. यूएनडीपी की रिपोर्ट बता रही है कि हम तेजी से गरीबी रेखा से निकल रहे हैं. युवाओं को सशक्त करने के लिए स्थानीय नीति लागू की गई. ताकि तृतीय और चतुर्थ वर्ग की नौकरियों में स्थानीय युवाओं को पूरी प्राथमिकता मिले. राज्य सरकार सरकारी और निजी क्षेत्र में युवाओं का नियोजन लगातार कर रही है. यह सब उन्हें सशक्त और आत्मनिर्भर करने के लिए किया जा रहा है.

सुखाड़ से जल्द मिलेगी मुक्ति

मुख्यमंत्री ने कहा कि पलामू को सुखाड जैसे अभिशाप से मुक्त करने के लिए राज्य सरकार ने कार्य प्रारंभ कर दिया है. मंडल डैम, सोन नदी में निर्मित हो रही योजना आगामी वर्षों में तैयार होगी इसके बनने से पलामू को सुखाड़ से निजात मिलेगा. इस निमित वर्तमान सरकार प्रयास कर रही है.

सरकार की नीयत और नीति का पता चलता है

सांसद सह पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना अपने आप में अनोखा है, इससे सरकार की नीयत और नीति का पता चलता है. पहले गैस सिलेंडर पर राजनीति होती थी. लेकिन 2014 के बाद 2019 में हम गर्व से कह सकते हैं कि उस स्थिति में बदलाव आया है. पूरे देश में उज्ज्वला योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन लेने वालों की संख्या 8 करोड़ हो गई.

झारखंड सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत चूल्हा और दूसरा रिफिल भी देने का काम कर रही है. यह सराहनीय है. पूरे राज्य में सबसे अधिक उज्ज्वला योजना का लाभ पलामू की जनता को मिला है. यह 90 प्रतिशत के करीब है. अब बचे हुए 10 प्रतिशत तक उज्ज्वला दीदियां एलपीजी कनेक्शन पहुंचाएंगी, जो जीवन जीने की सरलता प्रदान करेगा.