अमेरिका सहित फ्रांस और ब्रिटेन ने सीरिया पर किया मिसाइल से हमला, रूस ने दी चेतावनी

नई दिल्ली. गृह युद्ध की आग में जल रहे सीरिया पर मसाइल से हमले शुरू हो गए हैं. अमेरिका ने युद्धग्रस्त देश सीरिया पर हमला किया है. सीरिया में हुए केमिकल हमले के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिसाइल हमले का आदेश दिया. इस कार्रवाई में अमेरिका के साथ फ्रांस और ब्रिटेन भी शामिल है.

शनिवार तड़के सीरिया की राजधानी दमिश्क के पास मिसाइलों से हमला किया गया. अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक सीरिया में इस करवाई में लड़ाकू विमानों और जलपोतों का इस्तेमाल किया जा रहा है. हमले के बाद सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद ने ट्वीट कर कहा कि ‘अच्छी आत्माओं को दबाया नहीं जा सकता है.’

सीरिया में बिगड़ रहे हालात, कैमिकल अटैक के बाद सबसे ज्यादा बच्चों पर दिख रहा असर

अमेरिका में रूसी राजदूत ने सीरिया पर अमेरिकी नेतृत्व में हमला करने के परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है. रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों की ओर से दागी गई मिसाइलें सीरिया में रूसी एयर डिफेंस जोन में प्रवेश नहीं की हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया कि संयुक्त कार्रवाई का मकसद रासायनिक हथियारों के उत्पादन, प्रसार और इस्तेमाल के खिलाफ ‘मजबूत प्रतिरोधक’ तंत्र स्थापित करना है. उन्होंने कहा कि अमेरिका सीरिया पर तब तक दबाव बनाए रखेगा, जब तक असद सरकार रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल बंद नहीं कर देती है.