ऊना : प्लास्टिक उद्योग में लगी भंयकर आग, करोड़ो का नुकसान

तीन वाहनों को किया आग के हवाले, हफ्ते में तीसरी घटना-Panchayat
फाइल फोटो

ऊना. जिला ऊना के बाथड़ी औद्योगिक क्षेत्र में एक प्लास्टिक उद्योग में भीषण आग लगने से करीब 10 करोड़ का नुकसान हुआ है. आग लगने से प्लास्टिक उद्योग का एक बहुमंजिला परिसर पूरी तरह से जल गया. इसके साथ ही ऊना, टाहलीवाल, नंगल बीबीएमबी,एनएफएल से दमकल वाहनों ने सारी रात कड़ी मशक्कत कर उद्योग के दूसरे हिस्से को आग की चपेट से बचाने में मदद की.

सुबह तक भी उद्योग में लगी आग पूरी तरह से बुझ नही पाई थी.आग की इस घटना में उद्योग में कार्यरत सभी कर्मचारी सुरक्षित है. मिली जानकारी के अनुसार बीती रात करीब 12.15 बजे उद्योग में नाईट डयूटी पर लगभग 40 कर्मचारी तैनात थे. इसी बीच पहली मंजिल पर कर्मचारियों ने धुंआ उठते देखा. देखते ही देखते वहां आग फैल गई.

आनन-फानन में कर्मचारियों ने आग पर काबू पाने का प्रयास किया,लेकिन आग को तेजी से फैलते देख उद्योग प्रबंधन ने कर्मचारियों को सुरक्षित बाहर निकाला. आग की सूचना टाहलीवाल और ऊना दमकल विभाग को दी गई. जिसपर दमकल विभाग के टेंडर मौके पर पहुंचे.

कुछ ही देर बाद में आग ऊपर की मंजिलो में भी फैल गई. इस दौरान उद्योग परिसर में करोड़ों रुपये का तैयार माल,रॉ मैटेरियल व मशीनरी आग की भेंट चढ़ गई. फैक्ट्री में लगे वाटर हाईडरिंट्स भी नाकाफी साबित हुए और दमकल टेंडर्स को पानी भरने के लिए बार-बार जाना पड़ रहा था. आग की सूचना मिलते ही एसडीएम हरोली गौरव शर्मा,एसएचओ हरोली मौके पर पहुंच गए. राज्य औधोगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रो.रामकुमार ने भी वहां पहुंचकर राहत व बचाब कार्य के लिए आवश्यक निर्देश दिए.

उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने उद्योग प्रबंधन से बातचीत कर कर्मचारियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया,वही एनएफएल नंगल से भी फायर टेंडर्स भिजवाए. उद्योग के जीएम नागेंद्र ने बताया कि रात को उद्योग में आग लगने से करोड़ो का नुकसान हुआ है,इसका आंकलन किया जा रहा है. सभी कर्मचारी सुरक्षित है.