झारखंड में वीडियो कॉल से हुआ निकाह, ऑनलाइन निकाह बना चर्चा का केंद्र

झारखंड में वीडियो कॉल से हुआ निकाह, ऑनलाइन निकाह बना चर्चा का केंद्र-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

रांची. लॉकडाउन में शादी समारोह नहीं होने पर तालझारी के लालमाटी गांव के दंत चिकित्सक पीर मोहम्मद ने अपनी बेटी साबिया नाज की शादी वीडियो कॉल से कराई. दुल्हन अपने घर लालमाटी और दूल्हा पाकुड़ के मंझलाडीह में था. निकाह की रस्म लालमाटी की बड़ी मस्जिद के पेश इमाम हाफिज अकरम ने पूरी कीं. वीडियो कॉल से सभी रू-ब-रू हुए और निकाह कबूल हो गया.


तालझारी के लालमाटी गांव में 25 मार्च को पाकुड़ के मंझलाडीह से बारात आनी थी. लॉकडाउन के कारण बरात आने पर मनाही हो गई. हालात को देखते हुए दुल्हन के पिता डॉ. पीर मोहम्मद और दूल्हे के पिता ग्यासुद्दीन अंसारी से बातचीत कर रास्ता निकाला. अगले दिन 26 मार्च को वीडियो कॉल से दोनों का निकाह कराया.

दूल्हा मो. मकसूद अंसारी अपने घर और दुल्हन साबिया अपने घर में थी. बाकी रस्म और निकाहनामा पर दस्तख्त तब होगा, जब लड़की को विदा कराने के लिए बारात आएगी. जामा मस्जिद के पेश इमाम मुफ्ती अंजर हुसैन कासमी ने बताया कि देश में किसी प्रकार की मुसीबत आने पर हम सभी का कर्तव्य बनता है कि इसमें अहम जिम्मेदारी निभाएं. शादी समारोह का आयोजन नहीं कर वीडियो कॉल से निकाह कराना तारीफ-ए-काबिल है. यह निकाह पूरी तरह जायज है.