नगालैंड-मेघालय में मतदान संपन्न, नतीजे 3 मार्च को

नई दिल्ली.  नगालैंड और मेघालय विधानसभा के लिए मंगलवार को मतदान संपन्न हो गया. मुख्य निर्वाचन आयुक्त के कार्यालय के अनुसार नगालैंड में 75 प्रतिशत और मेघालय में 67 प्रतिशत मतदान हुआ. हालांकि यह पिछले विधानसभा चुनाव के मतदान की तुलना में कम हुआ है. पांच साल पहले 23 फरवरी, शनिवार, 2013 को नगालैंड और मेघालय में विधानसभा चुनाव के चुनाव हुए थे, जिसमें  नगालैंड में 83. 27 प्रतिश और मेघालय में 88 प्रतिशत वोटिंग हुई थी. चुनाव परिणाम तीन मार्च को घोषित किए जाएंगे.

नगालैंड में बड़े पैमाने पर चुनावी हिंसा की घटना हुई है. अकूलोतो में एनपीएफ़ और एनडीपीपी के समर्थकों और कार्यकर्ताओं के बीच झड़प और गोलीबारी हुई है. हिंसा में 1 शख्स की मौत हो गई है जबकि 2 लोग घायल हुए हैं.

हिमाचल निर्वाचन आयुक्त को ठगों ने लगाया 30 हज़ार का चूना

नगालैड के मुख्यमंत्री टी आर जेलियांग ने अपना वोट डाला है. वोट डालने के बाद उन्होंने कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि मतदान शांतिपूर्ण पूरा होगा और चुनाव में हमें पूर्ण बहुमत मिलेगा. हम सभी यह उम्मीद करते हैं कि राज्य में शांति स्थापित होगी और नगा समस्या का समाधान निकलेगा.’

कई स्थानों में EVM की वजह से मतदान शुरू होने में देरी हुई. चुनाव आयोग ने शाम चार बजे तक वोटिंग चलने की बात कही थी, जबकि नगालैंड के दूरदराज के जिलों में कुछ मतदान केंद्रों पर मतदान तीन बजे तक मतदान चलने की उम्मीद जताई थी.