क्या हाइटेक हो जाएगी हरियाणा की स्कूली शिक्षा व्यवस्था

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा को हाइटेक करने का खाका...
प्रतीक चित्र

गुरुग्राम. हरियाणा के सरकारी स्कूलों की पढ़ाई हमेशा चर्चा में रहती है. सरकारी स्कूलों को लेकर दूसरी राजनीतिक पार्टियां राजनीतिक रोटियां सेंकने लगी हैं. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. हरियाणा के मुख्यमंत्री ने प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा को हाइटेक करने का खाका बना लिया है. बुधवार को ऐसे संकेत हरियाणा के माध्यमिक शिक्षा विभाग के नवनियुक्त महानिदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने दिए.

राकेश गुप्ता ने बताया कि हरियाणा के माध्यमिक शिक्षा विभाग में आमूल-चूल परिवर्तन होने जा रहा है. गुप्ता बुधवार को गुरुग्राम पहुंचे और लघुसचिवालय के सभागार में गुरुग्राम मण्डल के अंतर्गत पड़ने वाले जिलों गुरुग्राम, रेवाड़ी तथा महेंद्रगढ़ के जिला शिक्षा अधिकारियों और जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को यह जानकारी दी. उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि शिक्षा विभाग में महानिदेशक का पदभार संभालते ही उन्होंने विभाग के मुख्यालय पर बैठे अधिकारियों को पहली बात यही कही है कि हमें शिक्षकों और शिक्षार्थी की मदद करनी है.

ये भी पढ़ें- भाजपा ने जारी की पांचों नगर निगम चुनाव के लिए पार्षदों की सूची

डॉ. गुप्ता ने जिला शिक्षा अधिकारियों से कहा कि अगले एक-दो महीने में वे माध्यमिक शिक्षा विभाग को पूरी तरह से स्ट्रीम लाईन करने जा रहे हैं ताकि शिक्षक अपने विभाग से संबंधित व्यक्तिगत कार्यों की बजाय ज्यादा समय विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा देने में ही लगाएं. उन्होंने कहा कि वे विभाग में सभी प्रकार के लंबित मामलों का निपटारा जल्द से जल्द करवाने की कोशिश करेंगे. इसके लिए वे मुख्यालय स्तर पर हर सप्ताह एक समीक्षा बैठक लिया करेंगे.

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा को हाइटेक करने का खाका...

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री चाहते हैं कि माध्यमिक शिक्षा विभाग एक मॉडल विभाग हो. इसके लिए उन्होंने अपने दिमाग में एक खाका भी तैयार कर लिया है. उनका विभाग को कंप्यूटराईज्ड करने के साथ-साथ मानव संसाधन प्रबंधन पर फोकस रहेगा जिसमें मार्च से लेकर मई माह तक स्वच्छता का कार्य करने की योजना है. डॉ. गुप्ता ने कहा कि विभाग में ज्यादात्तर काम ऑनलाईन होंगे और पत्राचार कम से कम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि ज्यादात्तर पत्र व्यवहार ऑनलाईन रहेगा. इसके लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों, अध्यापकों, कर्मचारियों आदि सभी के कंप्यूटर लर्निंग लैवल के आधार पर मैपिंग की जाएगी.

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा को हाइटेक करने का खाका...

बैठक में गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, रेवाड़ी के उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा, महेंद्रगढ़ की उपायुक्त गरिमा मित्तल के अलावा, इन जिलों के अतिरिक्त उपायुक्त, एसडीएम, जीएम रोड़वेज, सीएमजीजीए, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, सिविल सर्जन आदि ने भाग लिया.