डाटा लीक मामला: सवालों के बाउंसर के बीच जुकरबर्ग ने मांगी माफी

नई दिल्ली. डाटा लीक मामले में फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने एक बार फिर माफी मांगी है. उन्होंने फ़ेसबुक की ओर से हुए गड़बड़ी स्वीकारी और कहा कि भारत में आगामी चुनाव में ईमानदारी बरतेंगे.

मार्क जुकरबर्ग मंगलवार को अमेरिकी कांग्रेस की दो सीनेट कमेटी के ज्वाइंट सेशन में पेश हुए. इस दौरान 44 सीनेटरों ने उनसे सवाल जवाब किए. शुरुआती सवालों को सुनने के बाद वह थोड़ा तनाव में दिखे और जवाब देते समय उन्हें कई बार पानी भी पीना पड़ा.

अपनी बात की शुरुआत जुकरबर्ग ने माफी मांगते हुए की और कहा कि अब यह साफ हो गया है कि हम फेसबुक के टूल्स को और अपने उपयोगकर्ता के डाटा को सुरक्षित रखने में नाकाम रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘हमने अपनी जिम्मेदारियों पर पर्याप्त रूप से बड़ा नजरिया नहीं अपनाया और यह बड़ी भूल थी. जुकरबर्ग ने कहा कि, ‘यह मेरी भूल थी और मुझे इसका अफसोस है. मैंने फेसबुक शुरू किया, मैंने इसे चलाया और यहां जो कुछ हुआ, उसके लिए मैं जिम्मेदार हूं.

इस दौरान कॉमर्स कमेटी के चेयरमैन सेन जॉन थ्यून ने कहा कि आपने जो कंपनी बनाई वह अमेरिकी लोगों के सपनों का प्रतिनिधित्व करती है. कई लोग आपकी सफलता की कहानी से प्ररेणा लेते हैं और खासकर जो आपने किया है उससे भी. लेकिन इसके साथ ही आपके ऊपर एक दायित्व भी है और यह आप पर निर्भर करता है कि आप सुनिश्चित करें कि आपकी कंपनी और उसका इस्तेमाल करने वाले लाखों लोगों की ओर से देखा गया सपना उनकी गोपनीयता को लेकर बुरे सपने जैसा न बन जाए.