‘आदेश’ आॅनलाईन जारी करने में चतरा जिला अव्वल

चतरा. कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा कि राज्य कर्मियों के संबंध में आॅनलाईन स्थापना आदेश जारी करना सर्वाधिक महत्वपूर्ण लक्ष्य है. राज्य सरकार के 76 प्रतिशत सरकारी सेवकों का ई-सेवापुस्तक बना लिया गया है. ऑनलाइन स्थापना आदेश की समीक्षा के दौरान ई-सेवापुस्तक पर ही काम करने के आदेश दिए हैं.

खरे ने कहा कि आॅनलाईन ट्रांन्जेक्शन माॅड्यूल का प्रयोग करते हुए आॅनलाईन स्थापना आदेश जारी करने में चतरा जिला अव्वल रहा है, जहां कुल 180 स्थापना आदेश आॅनलाईन जारी हुए हैं, जिसके लिए उपायुक्त, चतरा को प्रशंसा पत्र भी भेजा गया है. विभागों में सर्वाधिक आदेश कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग के द्वारा जारी किये गये हैं. प्रधान सचिव ने अन्य विभागों एवं जिलों को आॅनलाईन ट्रांन्जेक्शन माॅड्यूल के प्रयोग करने का आह्वान किया. इस अवसर पर उपस्थित सभी नोडल पदाधिकारियों को प्रशिक्षण भी दिया गया.

मालूम हो कि आॅनलाईन स्थापना आदेश जारी करने से संबंधित कर्मियों का सेवापुस्तक स्वतः अपडेट होता रहेता है. ऑनलाइन के ये हैं फायदें
कर्मियों को स्थापना आदेश की प्रति उनके लाॅगिन एवं नोटिस बोर्ड पर आदेश जारी होने के साथ ही उपलब्ध हो जायेंगे.
प्रतिलिपि हेतु चिन्ह्ति पदाधिकारियों को आदेश की प्रति स्वतः ई-मेल के माध्यम से प्राप्त हो जायेगी.
मैनुअल आदेश के हस्ताक्षर के उपरान्त निर्गमन में विलम्ब होने, निर्गमनकर्ता के उपलब्ध नहीं होने, निर्गमन पंजी में प्रविष्टि करने आदि की समस्या से छुटकारा मिलेगी.

कॉमेंट करें

अपनी टिप्पणी यहाँ लिखें
अपना नाम यहाँ लिखें