शिमला को स्मार्ट सिटी से बाहर करना कांग्रेस-माकपा की सबसे बड़ी विफलता: धूमल

शिमला- नगर निगम शिमला चुनाव के मद्देनजर नेता विपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि राज्य सरकार की सबसे बड़ी विफलता है कि वह शिमला को स्मार्टसिटी योजना में शामिल नहीं करवा पाई है. जिसे एक साजिश के तहत किया गया. उन्होंने कहा कि नगर निगम चुनाव जीतने के बाद  शहर को व्यवस्थित करने के लिए सेटेलाइट टाउन स्थापित किये जायेंगे. बिजली और पानी की आपूर्ति के लिए केंद्र से योजनाओं के तहत पैसा लाया जाएगा और इस कार्य को समयबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा.

धूमल ने कहा कि शिमला को कांग्रेस और कम्युनिस्टों से मुक्त किया जाएगा. शिमला का विकास भाजपा की प्राथमिकता होगी. नेता विपक्ष पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने शिमला में कहा कि शिमला की जनता ने भाजपा और कांग्रेस दोनों के कार्य देखे हैं. वे खुद ही तय करें कि किसका कार्य बेहतर है. उसी के अनुरूप प्रत्याशियों को मत दें. निश्चित तौर पर जनता भाजपा को वोट देकर निगम पर काबिज करेगी.

धूमल ने सीबीआई जांच की मांग की

सीबीआई नेता विपक्ष प्रेम धूमल ने वन रक्षक होशियार सिंह की हत्या मामले की सीबीआई जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि वन रक्षक लगातार अधिकारियों को सूचित करता रहा लेकिन अधिकारियों और सरकार उसे अनसुना कर दिया. जिस कारण ये हादसा हुआ. उन्होंने जांच टीम को आगाह करते हुए कहा कि समय जल्द बदलने वाला है, वे सत्ता से बाहर जाने वाली सरकार के इशारे पर काम न करें अन्यथा आने वाले समय में उन पर कार्रवाई होगी. निष्पक्ष जांच कर दोषियों को सजा दिलवाने की कोशिश करें. भाजपा सत्ता में आने पर इस मामले की सीबीआई जांच करवाकर सभी को बेनकाब करेगी.

माध्यमPT DESK
शेयर करें