धर्मपुर के मतदाता करेंगे चुनाव का बहिष्कार

सोलन. कसौली विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ना किसी भी राजनीतिक दल के लिये आसान नहीं होगा. क्योंकि फोरलेन निर्माण के चलते समूचे धर्मपुर बाजार को ध्वस्त कर दिया गया है. जिसकी वजह से धर्मपुर में रह रहे लोगों में सभी राजनीतिक दलों के प्रति भारी रोष देखा जा रहा है. लोगों की नाराजगी इतनी ज्यादा बढ़ चुकी है कि वह आने वाले चुनावों का बहिष्कार करने का मन बना चुके हैं. ऐसे में भाजपा और कांग्रेस के नेता मतदाताओं का सामना कैसे करेंगे यह देखना दिलचस्प होगा.

विकास के नाम पर धर्मपुर में विनाश का तांडव देखने को मिला

धर्मपुर के लोगों ने रोष जाहिर करते हुए कहा कि विकास के नाम पर कसौली विधानसभा क्षेत्र में कुछ भी नहीं हुआ है. बल्कि विकास के नाम पर धर्मपुर में विनाश का तांडव देखने को मिला. फोरलेन निर्माण के चलते जहां एक ओर उनके आशियाने तोड़े गये, वहीं उनकी दुकानों को भी तहस नहस कर दिया गया. उन्हें बसाने के लिये स्थानीय विधायक और न ही भाजपा के सांसद ने कोई सकारात्मक कदम उठाया. उन्होंने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को भी अपना दुखड़ा सुनाया था. लेकिन उनकी ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया. यही वजह है कि अब वह आने वाले चुनावों का बहिष्कार करने को मजबूर हैं. जिसका खामियाजा सभी राजनीतिक दलों को भुगतना पड़ेगा.