विश्व योग दिवस : लखनऊ से लंदन तक

हिन्द महासागर से लेकर आबूधावी तक, कनॉट प्लेस के सेंट्रल पार्क से लेकर न्यूयार्क के सेंट्रल पार्क तक हर जगह योग दिवस मनाया गया. यहां तक कि सात अजूबों में शामिल चीन की दीवार पर भी हजारों लोग योग मनाने पहुंचे. न्यूयार्क के यू-एन ऑफिस के पास भी योग का आयोजन किया गया. आयूष मंत्रालय के मुताबिक 150 देशों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आय़ोजन हुआ.

भारतीय जल सेना के जवानों ने दक्षिणी हिंद महासागर में योग का अभ्‍यास किया. आबूधावी में लगभग 500 लोगों ने योग किया. इसके साथ ही पेरिस में एफिल टावर, लंदन के ट्रैफल्गर स्क्वायर पर भी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कार्यक्रम आयोजित किए गए. इंडो-तिब्बत बार्डर पुलिस ने शून्य से 25 डिग्री कम तापमान में 18,000 फीट की ऊंचाई पर स्थिति लदाख में योग का प्रदर्शन किया.

आयुष मंत्रालय के मुताबिक पूरे देश भर में 5,000 से अधिक योग के कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी योग दिवस मनाने एक दिन पहले उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ पहुंचे. मोदी ने लखनऊ के अंबेडकर सभा स्थल पर 25 योग आसनों को करके योग दिवस मनाया. उनके साथ उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिंह, प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने भी योग किया.

लखनऊ जिला प्रशासन के मुताबिक 51,560 लोगों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ योग क्रिया में भाग लिया. जिनमें 27 संस्थाएं भी शामिल हुएं.

हालांकि लखनऊ में बारिश और तेज हवा बहने से कार्यक्रम आधे घंटे की देरी से सुबह साढ़े छह बजे से शुरू हुआ. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 7,750 बच्चों के साथ भिंगते हुए योग किया. 21 बच्चों के ठंड और सरदर्द की शिकायत मिलने के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. योग स्थल पर भारी सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे. योग स्थल पर कमांडो और पैरामिलिट्री को तैनात किया गया था. बेहतर निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरा भी लगाएं गए.

योग दिवस पर बारिश होने पर पीएम मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा कि बारिश में योग मैट का उपयोग कैसे हो सकता है, ये भी पता चला. कार्यक्रम में बोलते हुए प्रधान नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज योग हर किसी के जीवन का हिस्सा बन रहा है. विश्व के अनेक देश योग के कारण जुड़ने लगे हैं. योग विश्व को अपने साथ जोड़ने में बड़ी भूमिका अदा कर रहा है. दुनिया के हर देश में योग का कार्यक्रम होता है. तीन सालों में योग के कारण कई संस्थान स्थापित हुए. दुनिया के सब देशों में योग टीचर की मांग हो रही है. भारत के लोगों की प्राथमिकता दुनिया में सबसे पहले है. उन्होंने योग को मुफ्त का स्वास्थ्य बीमा कहा.

वहीं, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि योग दिवस हर ओर मनाया जा रहा है. यह एक तरह का पर्व हो गया है.  उन्होनें कहा कि प्राचीन ग्रंथों ने योग के महत्व को स्वीकारा है. योगा जीवन की कला है यह हम सभी को जोड़ना सीखाता है.

वहीं, देश भर में योग के शिविर लगाए गए जिसमें आम लोगों के साथ नेताओं और मशहूर हस्तियों ने भी हिस्सा लिया. कोलकाता में एनसीसी कैडेट्स और भारतीय तटरक्षक दल के कर्मचारियों ने अलग-अलग शहरों में योग किया.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने नागपुर में, जितेंद्र सिंह ने जम्मू में और धर्मेंद्र प्रधान ने भुवनेश्वर में लोगों के साथ योग किया. कोयंबटूर में ईशा योग सेंटर पर योग दिवस समारोह में केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, तमिलनाडु के राज्यपाल विद्यासागर राव शामिल हुए.

अहमदाबाद में 5 लाख लोगों ने योग शिविर में भाग लिया
फोटो : [email protected]

बाबा रामदेव ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ अहमदाबाद में योग शिविर में हिस्सा लिया. अहमदाबाद में 5 लाख लोगों के योगाभ्यास करने का दावा किया जा रहा है. वहीं, महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने स्कूली बच्चों के साथ योग किया। फडणवीस के साथ अभिनेता जैकी श्रॉफ भी शामिल हुए. जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ और आर्मी के जवानों ने भी योग किया.

दिल्ली में राष्ट्रपति के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और राज्यपाल ने योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

गिनीज वर्ल्ड में अपना नाम दर्ज करवाने वाली सबसे उम्रदराज योगा ट्रेनर ताओ पोरचोन लींच बेंगलुरू के कंटिरवा स्टेडियम में भारत की सबसे बड़ी उम्र की योगा ट्रेनर अम्मा नानाम्मल ने साथ-साथ योग किया. दोनों 98 साल की हैं.

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अधिकारियों के साथ जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में योग किया.

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने राजधानी के सेन्ट्रल स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होनें कोई आसन नहीं किया. मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार पर योग को धार्मिक रंग देने की आलोचना की.

योग दिवस पर एक बार फिर कई रिकार्ड बनने वाले हैं. गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड के अधिकारी लखनऊ में नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम में मौजूद रहे.

योग दिवस को सरकार के विरोधियों ने भी मनाया. उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ‘साइकिल-योग’ किया. वहीं कांग्रेस ने किसान संगठनों के साथ शवासन करके केन्द्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों और मंदसौर में मारे गए किसानों को श्रदांजलि दी.

अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर पूरे देश भर में कार्यक्रम राजकीय स्तर पर मनाये जा रहे हैं. लेकिन बिहार की महागठबंधन सरकार इसको लेकर उदासीन दिखी. बिहार में भाजपा के कार्यकर्ता योग दिवस को लेकर खासे उत्साह में नजर आए.

2014 में अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए भारत ने यूएन में प्रस्ताव रखा था. दुनिया के 193 में से 175 देशों ने भारत के प्रस्ताव को मान्यता दी थी. इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की वैश्विक स्तर पर बड़ी सफलता के तौर पर देखा गया.