कुल्लू में प्रशासन का एक्शन, 44 होटल-गेस्ट हाउस सील

कुल्लू. मणिकर्ण घाटी के कसोल में प्रशासन द्वारा अवैध भवनों को लेकर बड़ी कार्रवाई की गई है. कुल्लू के एसडीएम सन्नी शर्मा ने क्षेत्र का दौरा कर कई होटल व गेस्ट हाउस की जांच की थी. जिसमें 44 होटल, गेस्ट हाउस और कुछ दुकानों के भवन अवैध पाए गए थे. उन कब्जों को हटाने के लिए नोटिस भी जारी किए गए थे. शनिवार को उन सभी होटल, गेस्ट हाउस और दुकानों को सील कर दिया गया है.

होटल व्यवसायी हुए हताश व परेशान

सर्दी की ठंडी रात और प्रशासन की एकाएक कार्रवाई से लोग परेशान दिखे. कसोल ग्राम पंचायत उपप्रधान टहल सिंह ने कहा कि इसमें हम लोगों का पक्ष सुने बिना ही यह कार्रवाई की गई है. उन्होंने कहा कि जल्दी ही सब लोग हाई कोर्ट जाकर राहत की अपील करेंगे.

नोटिस के बाद भी जारी रखा था कारोबार

कुल्लू के एसडीएम ने कहा कि उन्होंने पहले भी टीम के साथ कसोल में अवैध कब्जाधरियों को नोटिस भेजा था. उन्हें जगह खाली करने की पूरी मौहलत दी गई. लेकिन लोगों ने अपने अवैध कारोबार को नोटिस के बाद भी जारी रखा. शनिवार को पूरी टीम के साथ अवैध कब्जाधारकों के बिजली-पानी के कनेक्शन काट दिए गए. उन्होंने कहा कि सभी 44 होटल और रेस्तरां को सील कर दिया गया है.

निर्माण में अनियमितता बरती गई

बताया जा रहा है कि घाटी के अन्य क्षेत्रों का भी दौरा किया जाएगा. हाईकोर्ट के आदेशों के बाद एसडीएम की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है. जिसमे वन, आईपीएच, पर्यटन, पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को शामिल किया गया है. निरीक्षण के दौरान कमेटी ने पाया कि कुछ भवन अपनी मिल्कियत पर बने हुए है लेकिन उनके निर्माण में अनियमितता बरती गई है.