श्रमिकों ने मोबाईल फैक्ट्री में जड़ा ताला, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

श्रमिकों व बेरोजगारों के हितों पर कुठाराघात नहीं होने देंगेः मेरोठा

बारां- झालावाड़ मेगा हाईवे पर बामला के पास स्थित मोबाईल फैक्ट्री में कम दर व अधिक कार्य कराने के विरोध में श्रमिकों ने फेक्ट्री पर ताला जड़ दिया. वहीं कलेक्ट्रेट ऑफिस पहुंचकर अतिरिक्त जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा.जिसमें उन्होंने मजदूरी बढ़ाने और काम का समय निर्धारित करने की मांग की.

श्रमिक केशरीलाल मेघवाल, रविंद्र मीणा व गीता बाई आदि ने बताया कि वे फैक्ट्री में पिछले चार माह से कार्यरत हैं, लेकिन उन्हें प्रतिमाह मात्र 3500 रूपए के वेतन का भुगतान किया जाता है. वहीं आईटी व पोलीटेक्निक डिप्लोमाधारी से भी 12 घंटे काम करने के बावजूद प्रतिमाह 4500 रूपए का भुगतान किया जाता है. जो कि काफी कम है. श्रमिकों की मांग है कि उन्हें श्रम विभाग के नियमों के अनुसार काम कराया जाए और ओवरटाइम का उचित भुगतान किया जाए. सभी श्रमिक फेक्ट्री परिसर में सुबह एकत्रित हुए और मेन गेट पर आकर प्रदर्शन करते हुए ताला लगा दिया.इसके बाद सभी श्रमिक ज्ञापन देने के लिए कलेक्ट्रेट रवाना हो गए. इस दौरान श्रमिकों ने इस मामले में राजस्थान युवा बोर्ड सदस्य प्रदीप मेरोठा को फ़ोन पर घटना की जानकारी दी.जिस पर उन्होंने कहा कि श्रमिकों व बेरोजगारों के हितों पर कुठाराघात नहीं होने दिया जाएगा. श्रमिकों के समस्यायों का उचित समाधान किया जायेगा. इसके बाद मेरोठा ने श्रमिकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर अतिरिक्त जिला कलक्टर वासुदेव मालावत से चर्चा कर श्रमिकों की समस्याओं का शीघ्र समाधान कराने का आग्रह किया.

शेयर करें