रामनाथ कोविंद से जुड़ी कुछ बातें

तमाम कयासों के उलट भारतीय जनता पार्टी ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए नामित किया है. वर्तमान में रामनाथ कोविंद बिहार के राज्यपाल हैं. कोविंद भाजपा के बड़े दलित चेहरों में से एक हैं, और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के काफी करीबी माने जाते हैं. राष्ट्रपति के.आर नारायणन के बाद देश को दूसरी बार दलित राष्ट्रपति मिल सकता है. वे पहले राष्ट्रपति होंंगे जिनका संबंध उत्तर प्रदेश से है. रामनाथ कोविंद से जुड़ी दस बातें…

  1. रामनाथ कोविंद का जन्म 01 अक्टूबर 1945 को उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात के एक छोटे से गाँव परौंख में हुआ था.
  2. कानपुर विश्वविद्यालय से उन्होंने बी.कॉम की पढाई की, वहीं से उन्होंने एलएलबी किया.
  3. रामनाथ कोविंद पेशे से वकील हैं और दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में 16 साल तक उन्होंने वकालत की प्रैक्टिस भी की है. इस दौरान उन्होंने गरीब दलितों के लिए मुफ्त में कानून की लड़ाई लड़ी.
  4. 1977 से 1979 के बीच केन्द्र की जनता दल की सरकार में सरकारी वकील भी रह चुके हैं.
  5. अपने संसदीय कार्यकाल के दौरान कोविंद आदिवासी, गृह मामले, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, सामाजिक न्याय, क़ानून और न्याय व्यवस्था और राज्यसभा हाउस कमेटी के चेयरमैन रहे हैं.
  6. अपने 12 साल के संसदीय कार्यकाल में उन्होंने शिक्षा से जुड़े कई अहम मुद्दों को उठाया. वह गवर्नेंस ऑफ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के भी सदस्य रहे हैं.
  7. अगस्त 2015 से वह बिहार के गवर्नर पद पर हैं.
  8. वह भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रह चुके हैं.