थेरेसा मे का दांव पड़ा उलटा, ब्रिटेन में त्रिशंकु परिणाम

ब्रिटेन में समय से पूर्व चुनाव करवाने का दांव थेरेसा मे पर उल्टा पड़ता नजर आ रहा है. अभी तक आये नतीजों के हिसाब से कोई भी पार्टी पूर्ण बहुमत तक नहीं पहुँच पाई है. यह आम चुनाव ब्रिटेन में तय समय से तीन साल पहले करवाए गये हैं. पिछला चुनाव दो साल पहले 2015 में हुआ था. अभी तक आये परिणाम के मुताबिक 650 सीटों  में कंज़र्वेटिव पार्टी को 315, लेबर पार्टी को 215, लिबरल डेमोक्रेट्स को 12 और एसएनपी को 35 सीटें मिली हैं.

कंज़र्वेटिव पार्टी की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने पिछले साल ब्रेक्सिट पर आए फ़ैसले को देखते हुए 19 अप्रैल को समय-पूर्व चुनाव करवाने का फ़ैसला किया था. ‘फिक्स्ड टर्म पार्लियामेंट एक्ट’ के अनुसार ब्रिटेन में चुनाव हर 5 साल बाद मई के महीने में कराए जाते हैं. इसके मुताबिक अगला चुनाव 2020 में होना था .

थेरेसा मे ने कहा था कि “अगर कंज़र्वेटिव पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलता है तो पार्टी देश में स्थिरता को कायम रखेगी क्योंकि इस समय देश को सबसे ज़्यादा राजनीतिक स्थिरता की ज़रूरत है.

लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोर्बिन ने कंज़र्वेटिव प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे को इस्तीफा देने को कहा है. उन्होंने कहा है कि थेरेसा ने तय समय से पहले चुनाव पूर्ण बहुमत के लिए करवाया पर यह दांव उनका उल्टा पड़ गया.उन्हें जनता ने नकार दिया है और उनके समर्थकों की संख्या घटी है.

 

शेयर करें