निजी स्कूलों में डमी एडमिशन पर होगी कार्रवाई :कमल किशोर गुप्ता

कांगड़ा –हिमाचल प्रदेश के स्कूलों में अब फर्जी एडमिशन किए जाने पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी. प्रदेश सरकार एवं उच्च शिक्षा निदेशालय शिमला को जानकारी मिली है कि राज्य के निजी शिक्षण संस्थानों में छात्रों को डमी एडमिशन देने  का सिलसिला चल रहा है. स्कूलों में छात्रों को डमी तौर पर दाखिला दिया जा रहा है, जबकि छात्र दूसरे संस्थानों में कोचिंग व अन्य प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे होते हैं. ऐसे छात्र मात्र परीक्षा देने के लिए ही स्कूलों में पहुंचते हैं. शिक्षा निदेशालय ने प्रदेश के किसी भी स्कूल में डमी एडमिशन किए जाने पर कड़ी कार्रवाई का ऐलान किया है. इसके लिए जिले के सभी उपनिदेशकों को स्कूलों के निरीक्षण किए जाने के भी निर्देश जारी किए गए हैं. डमी एडमिशन का मामला पाए जाने पर स्कूलों की संबंद्धता रद्द करके ताले लटका दिए जाएंगे. इतना ही नहीं, प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों द्वारा अपने बच्चों का भी स्कूल में डमी एडमिशन करवा रहे हैं. अब शिक्षा विभाग ऐसे मामलों को लेकर पूरी तरह से अलर्ट हो गया है. ऐसा मामला पाए जाने पर शिक्षक के विरुद्ध सीसीएस कंडक्ट नियम-1964 के तहत कार्रवाई करने का मन बना चुका है.
उधर, उच्च शिक्षा उपनिदेशक कमल किशोर गुप्ता ने बताया कि निदेशालय से डम्मी एडमिशन को लेकर कार्रवाई करने के निर्देश मिले हैं. उन्होंने बताया कि इस तरह का मामला पाए जाने पर स्कूल और शिक्षकों पर कार्रवाई की जाएगी और स्कूल की मान्यता रद्द करने तक का प्रवधान है.
माध्यमPT DESK
शेयर करें